फंस गए लालू यादव, पटना में आयोजित रैली पर आयकर विभाग ने दिया नोटिस

पटना। हाल ही में पटना में आयोजित रैली को लेकर आयकर विभाग ने लालू प्रसाद यादव ने लालू यादव को नोटिस भेजकर पूछा है कि रैली के लिए इतना पैसा कहां से आया। इससे पहले भी लालू यादव के परिवारों पर बेनामी संपत्ति के मामले में लालू यादव को कई मुश्किलों का सामना करना पड़ा था। आयकर विभाग ने आरजेडी की ‘भाजपा भगाओ देश बचाओ’ रैली के खर्चे को लेकर हिसाब मांगा है। पार्टी के नेता आयकर विभाग की इस कार्रवाई से नाराज हैं और तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे हैं।

पढ़ें- अन्ना ने लिखा पीएम मोदी को खत, बोले- लोकपाल पर फिर करूंगा आंदोलन

आयकर विभाग ने आरजेडी को नोटिस देकर पूछा है कि पटना में आयोजित रैली के लिए पैसा कहां से जुटाया गया। बता दें कि पिछले रविवार लालू यादव ने पटना में ‘देश बचाओ, भाजपा भगाओ’ नाम से विशाल रैली का आयोजन किया था। इस रैली में विपक्षी पार्टियों ने वर्तमान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा गया था।

पढ़ें- पढ़ें तीन तलाक को लेकर सुप्रीम कोर्ट क्या दिया निर्णय

इस रैली में लालू यादव के अलावा शरद यादव, अखिलेश यादव, ममता बनर्जी, गुलाम नबी आजाद, सीपीआई नेता डी राजा, कांग्रेस के हनुमंत राव, डीएमके के एलांगोवन, एनसीपी के तारिक अनवर ने भी हिस्सा लिया था। रैली में शामिल नेताओं के लिए रहने और खाने-पीने का इंतजाम पार्टी के विधायकों, पार्षदों और सांसदों के जिम्मे था। सुरक्षा के लिहाज से इस रैली के लिए तकरीबन 7000 पुलिस के जवानों और 1000 मजिस्ट्रेट की तैनाती की गई थी।

पढ़ें- दुनिया का चौथा सबसे खतरनाक देश है पाकिस्तान, जानें कितने नंबर पर है भारत

इसके अलावा आयकर विभाग ने मंगलवार को ही लालू की पत्नी और पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी से भी इसी मामले में पूछताछ की। इससे पहले मंगलवार को आयकर विभाग और प्रवर्तन निदेशालय की संयुक्त टीम ने लालू के छोटे बेटे और पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव से घंटों बेनामी संपत्ति के मामले में पूछताछ की थी। पूछताछ में तेजस्वी ने कहा था कि ये पैसे उन्होंने क्रिकेट खेलने के दौरान कमाये थे।

यह भी पढ़ें:

सरकार ने ब्लॉक किया 81 लाख आधार कार्ड, ये है जांचने का तरीका

आठ घंटे से ज्यादा नींद लेते हैं तो हो जाइए सावधान

व्हाट्सएप को टक्कर देने के लिए पेटीएम लाएगी मैसेजिंग सर्विस


मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्विटरगूगल प्लस पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *