अन्ना ने लिखा पीएम मोदी को खत, बोले- लोकपाल पर फिर करूंगा आंदोलन

anna-wrote-letter-pm-modi-lokpal

नई दिल्ली। समाजसेवी अन्ना हजारे ने पीएम मोदी को खत के जरिये फिर से आंदोलन करने की चेतावनी दी है। उन्होंने अपने खत में भ्रष्टाचार और किसानों की बढ़ती समस्याओं पर नाराजगी जाहिर की है। उन्होंने कहा है कि मोदी सरकार तीन सालों से सत्ता में है, लेकिन अभी तक लोकपाल बिल नहीं लाई गयी है। हजारे ने लोकपाल बिल ना लाने पर मोदी सरकार के खिलाफ कड़े आंदोलन की धमकी दी है।

पढ़ें- सीवान तेजाब कांड मामले में शहाबुद्दीन की याचिका खारिज, जेल में ही रहना होगा

बता दें कि यूपीए सरकार के दौरान भी अन्ना दिल्ली के रामलीला मैदान में अनशन पर बैठे थे। अन्ना ने मोदी को लिखी चिट्ठी में साफ तौर पर कहा है कि वो जल्द ही रामलीला मैदान में अनशन पर बैठेंगे। इसकी तारीख भी उनका संगठन ‘इंडिया अगेंस्ट करप्शन’ जल्द ही करेगा। अन्ना हजारे ने कहा कि उस आंदोलन को 6 साल बीत चुके हैं। लेकिन लेकिन इतने साल बाद भी सरकार ने लोकायुक्त नियुक्ति को लेकर कोई कदम नहीं उठाया। उन्होंने आगे लिखा है कि वो अपने अगले पत्र में आंदोलन का दिन और तारीख लिखकर भेजेंगे।

यह भी पढ़ें -   देश में शिक्षा को भारतीय भाषाओं में होनी चाहिए- उपराष्ट्रपति

पढ़ें- जानें दीपक मिश्रा के उन कड़े फैसलों के बारे में

दरअसल अन्ना हजारे अपने खत का जवाब नहीं मिलने से नाराज हैं। मीडिया खबरों के मुताबिक, अन्ना हजारे ने मोदी सरकार से कई सवाल भी पूछे हैं। गांधीवादी हजारे ने कहा है कि सरकार की कथनी और करनी में बहुत फर्क है। बता दें कि अन्ना हजारे ने मार्च में भी पीएम मोदी को एक पत्र लिखा था। इसमें उन्होंने कहा था कि सरकार ने करप्शन खत्म करने के तमाम वादे तो किए लेकिन जब इनपर काम करने की बारी आई तो वो पीछे हट रही है। उस वक्त भी अन्ना ने आंदोलन की धमकी दी थी।

यह भी पढ़ें -   डोकलम विवाद: सिक्किम सीमा पर भारत ने बढ़ायी सैनिकों की तैनाती

पढ़ें- पढ़ें तीन तलाक को लेकर सुप्रीम कोर्ट क्या दिया निर्णय

अन्ना ने 2011 की आंदोलन की याद दिलाई

अन्ना हजारे ने 2011 के आंदोलन की भी याद दिलाई। उन्होंने कहा कि 2011 में दिल्ली के रामलीला मैदान में जो आंदलन हुआ था, उसके बाद संसद में लोकपाल बिक पास किया गया था। लेकिन मोदी सरकार इस दिशा में कुछ ज्यादा नहीं कर रही है। अन्ना के मुताबिक, इस दिशा में आंदोलन के अलावा कोई अन्य रास्ता नहीं बचा है। अन्ना ने यह भी कहा कि जिन राज्यों में बीजेपी की सरकार है। वहां भी अभी तक लोकायुक्त की नियुक्ति नहीं की गई है।

यह भी पढ़ें -   हाफिज और दाऊद पर बोले इमरान, मैं जिम्मेदार नहीं, विरासत में मिला सबकुछ

यह भी पढ़ें:

बीएस-3, लोगों ने खुद की जान जोखिम में डाली

आठ घंटे से ज्यादा नींद लेते हैं तो हो जाइए सावधान

व्हाट्सएप को टक्कर देने के लिए पेटीएम लाएगी मैसेजिंग सर्विस


मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्विटरगूगल प्लस पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *