जब सेना ने हेलिपैड पर नहीं उतरने दिया सीएम का हेलिकॉप्टर

देहरादून। उत्तराखंड के सीएम के लिए उस वक्त काफी परेशानी की स्थिति उत्पन्न हो गई जब सेना के जवान ने मुख्यमंत्री के हेलिकॉप्टर को हेलिपैड पर उतरने नहीं दिया। मामला राजधानी देहरादून का है जहां रविवार को एक हैरान करने वाला मामला सामने आया। दरअसल मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को देहरादून के जीटीसी हेलिपैड से एक अन्य अस्थाई हेलिपैड पर जाना था।

जब मुख्यमंत्री का हेलिकॉप्टर देहरादून के जीटीसी हेलिपैड पर उतरने वाला था तब सेना ने हेलिकॉप्टर को उतारने से मना कर दिया। सेना के एक अधिकारी ने इसके लिए हेलिपैड पर दो ड्रम रख दिये। घटना के बाद मुख्यमंत्री के मुख्य सुरक्षा अधिकारी ने सेना के सामने मामले की शिकायत दर्ज करायी है।

यह भी पढ़ें -   सुकमा में नक्सली हमला: 2 जवान शहीद, 7 घायल

Brown Rice: स्वास्थ्य के लिए है बेस्ट ?

शिकायत में कहा गया है कि मुख्यमंत्री की गाड़ी जिस दौरान जीटीसी हेलिपैड पर मुख्य द्वार से जा रही थी, तब वहां पर एक सैन्य अधिकारी जो अपनी निजी गाड़ी पर सवार थे, उन्होंने सीएम का रास्ता रोका। जिस वजह सीएम रावत को काफी देर तक इंतजार करना पड़ा। इस दौरान सैन्य अधिकारी अपनी गाड़ी नहीं हटाने पर अड़ा रहा। जब उन्हें बताया गया कि गाड़ी में मुख्यमंत्री हैं तब उन्होंने अनमने ढंग से गाड़ी हटाई।

यह भी पढ़ें -   दिल्ली के राजीव चौक मेट्रो स्टेशन पर चला पॉर्न फिल्म, मचा हंगामा

शिकायत के अनुसार, उन्होंने कहा कि आप लोग ठीक नहीं है ये सेना का इलाका है। इस मामले में सीएम के सुरक्षा अधिकारी ने सेना के समक्ष शिकायत दर्ज करायी है। जहां पर सीएम के हेलिकॉप्टर उतड़ना था वहां पर कुछ अधिकारियों ने दो ड्रम हेलिपैड पर रख दिये। जिसकी वजह से सीएम के हेलिकॉप्टर को दूसरी जगह पर उतारना पड़ा। हालांकि हेलिकॉप्टर के लैंडिंग में कोई परेशानी नहीं हुई।

बता दें कि इसी इलाके में सीएम रावत को सावणी इलाके में बने एक अस्थाई हेलिपैड के लिए रवाना होना था. रावत वहां पर अग्नि कांड के पीड़ितों से मिलने गए थे। इसके साथ-साथ वे पीड़ित को मदद की राशि भी देने गये थे।

यह भी पढ़ें -   Article 370 withdraw from J & K, लद्दाख वासी खुश, बोले फैसला स्वागत योग्य

यह भी पढ़ें:

अब अभिनेत्री मधुबाला की मुस्कान भी खिलेगी मैडम तुसाड म्यूजियम में

गुजरात में 12 शेरों के बीच महिला ने दिया बच्चे को जन्म

क्या आपको पता है कि इन चार समय पर नहीं मापना चाहिए वजन


मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्विटरगूगल प्लस पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *