एसबीआई बैंक में खाता है तो आज ही जान लें यह बात, आपके लिए है बड़ी खुशखबरी

एसबीआई बैंक में खाता

भारतीय स्टेट बैंक (State Bank of India) ने अपने ग्राहकों को हाल ही में बड़ी खुशखबरी दी है। एसबीआई बैंक (SBI Bank) द्वारा किए गए इस नए बदलाव के बाद एसबीआई के ग्राहकों को बड़ी खुशी मिली है। बता दें कि भारत में सबसे ज्यादा बैंक खाता भारतीय स्टेट बैंक में है।

Join Whatsapp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

सबसे ज्यादा खाता रखने वाले इस बैंक में जब भी कोई अपडेट जारी होता है तो उसका असर बड़े पैमाने पर उनके ग्राहकों पर पड़ता है। यदि आपका अकाउंट भी एसबीआई बैंक में है तो इस अपडेट को अंत तक पढ़ें।

यह भी पढ़ें -   Old pension scheme latest News: इस राज्य में भी होगा ऐलान

पेंशनर्स और बुजुर्गों के लिए नए बदलाव

भारतीय स्टेट बैंक ने हाल ही में अपने पेंशन वर्ग के ग्राहकों और बुजुर्ग खाता धारकों के लिए नए बदलाव किए हैं। बुजुर्ग व्यक्तियों को बैंकों से पैसों के लेनदेन में काफी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इन चुनौतियों को देखते हुए बैंक ने इससे निपटने के लिए अपने सिस्टम में बड़ा बदलाव किया है।

बैंक द्वारा किए गए इस बदलाव के बाद अब बुजुर्ग व्यक्ति भी बड़ी ही आसानी से अपने खातों से एसबीआई बैंक से पैसे निकाल सकते हैं और जमा कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें -   रेलवे ने बर्थ आरक्षण के नियमों में किया बदलाव, जानें क्या होगा नया नियम

एसबीआई बैंक ने किया यह बड़ा बदलाव

भारतीय स्टेट बैंक (Bhartiya State Bank) ने अपने पेंशनर्स और वरिष्ठ नागरिकों की सुविधा का ध्यान रखते हुए अपनी नई सेवा की शुरुआत की है। वरिष्ठ नागरिक को अब बैंक की शाखा में जाने की जरूरत नहीं है। अपने खाते से लेन-देन अब एसबीआई खाता धारक ग्राहक सेवा केंद्रों और आइरिस स्कैनर की मदद से भी कर सकते हैं।

एसबीआई बैंक के खाता धारक अब पैसे निकालने और जमा करने के लिए शाखा जाने के बजाए ग्राहक सेवा केंद्र से भी यह काम कर सकते हैं। एसबीआई बैंक (SBI Bank) ने इस मामले को ध्यान में रखते हुए सभी अपने शाखा और उपशाखा को निर्देश जारी किया है। भारतीय स्टेट बैंक के इस कदम से उनके करोड़ों ग्राहकों को बड़ी राहत मिली है।

यह भी पढ़ें -   Yes Bank Crisis: SBI बना खेबनहार, बैंक में होगा 49 फीसदी हिस्सेदारी
Join Whatsapp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

Follow us on Google News

देश और दुनिया की ताजा खबरों के लिए बने रहें हमारे साथ। लेटेस्ट न्यूज के लिए हन्ट आई न्यूज के होमपेज पर जाएं। आप हमें फेसबुक, पर फॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब कर सकते हैं।