रामलीला मैदान में 16 फरवरी को केजरीवाल लेंगे सीएम पद की शपथ

आम आदमी पार्टी

नई दिल्ली, एजेंसी। आम आदमी पार्टी चीफ अरविंद केजरीवाल 16 फरवरी को रामलीला मैदान में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। केजरीवाल तीसरी बार दिल्ली के मुख्यमंत्री बनेंगे। शपथ ग्रहण समारोह का आयोजन रामलीला मैदान में किया जाएगा। वर्ष 2015 में भी अरविंद केजरीवाल ने रामलीला मैदान में ही सीएम पद की शपथ ली थी। मीडिया रिपोर्ट के दौरान ये जानकारी मिली।

दरअसल, दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी ने साल 2015 की तरह ही जबरदस्त जीत हासिल की है। आम आदमी पार्टी  को दिल्ली विधानसभा चुनाव में 62 सीटें हासिल हुईं। हालंकि, पिछली बार से 6 सीटें कम है। वहीं बीजेपी को इस चुनाव में 8 सीटें मिली हैं। कांग्रेस का पिछली बार की तरह ही इस बार भी खाता नहीं खुला और उसके करीब 67 उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गई।

केजरीवाल पार्टी को 53.57 फीसदी वोट

अगर वोट फीसदी की बात करें तो आप ने 62 सीटों पर जीत हासिल की और उसकी वोट हिस्सेदारी 53.57 प्रतिशत रही। भाजपा को 38.51 प्रतिशत वोट मिले। कांग्रेस का खाता नहीं खुला और उसकी वोट हिस्सेदारी 4.26 प्रतिशत रही। आप की प्रचंड जीत के साथ ही नई कैबिनेट को लेकर चर्चा शुरू हो गई है। नई कैबिनेट में कई नए नाम आने को लेकर चर्चाएं तेज हो गई हैं।

यह भी पढ़ें -   इस वजह से राहुल ने सिंधिया नहीं कमलनाथ को बनाया सीएम

पार्टी के राष्ट्रीय विस्तार की चर्चा तेज

हालांकि, आप की तरफ से इस बाबत कोई बोलने को तैयार नहीं है। आम आदमी पार्टी यानी आप 62 सीट जीतकर फिर सरकार बनाने जा रही है। आप के सभी कैबिनेट मंत्री जीतने में कामयाब रहे। इनमें मनीष सिसोदिया, सत्येंद्र जैन, गोपाल राय, कैलाश गहलोत, राजेंद्र पाल गौतम शामिल हैं। वहीं, आप संगठन को मजबूत कर रहे नेता भी इस बार जीतकर विधानसभा पहुंचे हैं। इनमें दिलीप पांडेय, आतिशी व राघव चड्ढा समेत कई नेता शामिल हैं।

यह भी पढ़ें -   Delhi Election 2020: अरविंद केजरीवाल ने बीजेपी पर साधा निशाना, पूछा...

वहीं, ऐसे कई नेता हैं जो तीसरी बार विधायक बने हैं। तीसरी बार विजय मिलने के बाद एक बार फिर आप के राष्ट्रीय विस्तार की चर्चा तेज हो गई है। ऐसे में इस बार कैबिनेट का संतुलन महत्वपूर्ण माना जा रहा है। जिसे देखते हुए कयास लगाए जा रहे हैं कि कैबिनेट में नए चेहरों को जगह मिल सकती हैं।

केजरीवाल विधायक दल के नेता चुने गए

आप को मिली प्रचंड जीत के बाद सरकार के दोबारा औपचारिक गठन की तैयारी शुरू कर दी गई है। बुधवार दोपहर आप के विधायक दल की बैठक हुई जिसमें अरविंद केजरीवाल को विधायक दल के नेता चुना गया। सूत्रों का कहना है कि विधायक दल का नेता चुनने के बाद उपराज्यपाल को सरकार बनाने का प्रस्ताव दिया जाएगा।

बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने बुलाई महासचिवों की बैठक

दूसरी तरफ दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 में भारतीय जनता पार्टी की करारी हार के बाद बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने हार की समीक्षा केलिए महासचिवों की बैठक बुलाई। भाजपा अध्यक्ष ने बैठक में हार की समीक्षा की। बता दें कि दिल्ली विधानसभा चुनाव में भाजपा की बड़ी हार हुई। लगभग 21 दिनों तक चले आक्रामक प्रचार के बावजूद दिल्ली में पार्टी की नैया डूब गई।

यह भी पढ़ें -   जामिया फायरिंग पर बोले गृहमंत्री, घटना बर्दाश्त के बाहर, करेंगे कठोर कार्रवाई

भाजपा ने चुनाव प्रचार के दौरान शाहीन बाग, अनुच्छेद 370, नागरिकता कानून, राम मंदिर जैसे मुद्दों का जिक्र किया लेकिन फिर भी पार्टी को हार मिली। चुनाव में हार के बाद भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने हार स्वीकार की और कहा- भाजपा इस जनादेश को स्वीकारते हुए रचनात्मक विपक्ष की भूमिका निभाएगी और प्रदेश के विकास से जुड़े हर मुद्दे को प्रमुखता से उठाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *