नाइजीरिया में जिहादी हमले में पांच सुरक्षाकर्मियों की मौत

नाइजीरिया

कानो (नाइजीरिया)। नाइजीरिया के उत्तर पूर्वी बोरनो राज्य में इस्लामिक स्टेट समूह से संबद्ध जिहादियों के तीन अलग-अलग हमले में दो सैनिकों समेत पांच सुरक्षाकर्मियों की मौत हो गई। सूत्रों ने बुधवार को यह जानकारी दी।

Join Whatsapp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

सेना के एक अधिकारी ने बताया कि ट्रक पर सवार जिहादी समूह इस्लामिक स्टेट वेस्ट अफ्रीका (आईडब्ल्यूएपी) के लड़ाकों ने राज्य की राजधानी मैदुगुरी के पास तुंगुशे गांव में एक सैन्य चौकी पर सोमवार को पहला हमला किया, जिसमें एक सैनिक की मौत हो गई और अन्य घायल हो गया।

अधिकारी ने नाम नहीं बताने की शर्त पर कहा, ”आतंकवादियों ने स्थानीय समयानुसार शाम करीब छह बजे गोलीबारी शुरू की जिसमें एक सैनिक की मौत हो गई और अन्य घायल हो गया। उन्होंने बताया कि घटना में दो आतंकवादियों को भी मार गिराया गया और हथियारों से भरे ट्रक को भी बरामद कर लिया गया।

यह भी पढ़ें -   पतंजलि ने बनाई कोरोना की दवा, 1 सप्ताह में 100 फीसदी रिजल्ट का दावा

जिहादी रोधी मिलिशिया इब्राहिम लिमान के अनुसार आतंकवादियों ने पास के गाजीगन्ना में सैनिकों को निशाना बनाकर हमला किया जिसमें एक सैनिक की मौत हो गई और हथियार से भरा ट्रक जब्त किया गया। तुंगुशे मैदुगुरी से 22 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है, जिसे आईएसडब्ल्यूएपी और प्रतिद्वंद्वी बोको हराम धड़े के लड़ाके निशाना बनाते रहते हैं।

सोमवार को ही मशीन गन से लैस मोटरसाइकिल और चार ट्रकों में सवार आतंकवादियों ने कैमरून से लगती सीमा के पास रान शहर पर धावा बोला और सैनिकों एवं मिलिशिया ठिकानों पर हमला किया। लिमान ने बताया, ”रान दुर्घटना में हमने अपने तीन साथियों को खो दिया।

यह भी पढ़ें -   Jhunjhunwala Death: पीएम मोदी ने जताया शोक, इस दिग्गज के लिए कही यह बात

उन्होंने कहा, ”हमारे लिए राहत की बात यह रही कि इस हमले में आतंकवादियों के कमांडर समेत कई आतंकवादियों को मार गिराया गया और उनका एक ट्रक भी जब्त कर लिया गया। रान उत्तर पूर्व मैदुगुरी से करीब 175 किलोमीटर दूर है, जहां जिहादी हिंसा के कारण विस्थापित करीब 35,000 लोग शरण लिए हुए हैं। मंगलवार को आईएसडब्ल्यएपी ने बयान जारी कर इन तीनों हमलों की जिम्मेदारी ली।

Join Whatsapp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

Follow us on Google News

देश और दुनिया की ताजा खबरों के लिए बने रहें हमारे साथ। लेटेस्ट न्यूज के लिए हन्ट आई न्यूज के होमपेज पर जाएं। आप हमें फेसबुक, पर फॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब कर सकते हैं।