तो ये है निरहुआ की असली पत्नी, जानें कौन । Who is real wife of Nirahua

नई दिल्ली। सोशल मीडिया पर भोजपुरी फिल्मों के सुपरस्टार दिनेश लाल यादव उर्फ निरहुआ और उनकी को-स्टार आम्रपाली दुबे को लेकर अक्सर चर्चाओं का दौर गर्म रहता है। कई लोग आम्रपाली दुबे को ही निरहुआ की वाइफ बताते हैं लेकिन ऐसा नहीं है। आज हम आपको बताएंगे भोजपुरी स्टार निरहुआ के असल जिंदगी का राज।

ये है निरहुआ की असली पत्नी

हिंदी वेबसाइट भास्कर में छपी खबर के अनुसार आम्रपाली और निरहुआ की रिलेशनशिप पर दिनेश लाल यादव की मां चंद्रज्योति देवी का कहना है कि दिनेश लाल यादव की शादी साल 2000 में ही कर दी गई थी। दिनेश की वाइफ का नाम मंशा है। वो दिनेश के साथ ही मुंबई में रहती हैं। बकौल चंद्रज्योति देवी दिनेश लाल यादव को दो बेटा भी है। एक नाम आदित्य और दूसरे का अमित है। चंद्रज्योति देवी के दोनों पोते अपने माता-पिता के साथ मुंबई में ही रहते हैं।

इस तरह करते थे रियाज

निरहुआ की मां का कहना है कि दिनेश को बचपन से ही गीत-संगीत का शौक था। वो कभी रियाज करने से नहीं चूकता था। निरहुआ भैंस चराते वक्त भी उनकी पीठ पर बैठकर रियाज करता था। दिनेश के पिता चाहते थे कि दिनेश लाल यादव पढ़-लिखकर नौकरी करे, लेकिन दिनेश लाल यादव को एक्टर बनने का शौक था।

निरहुआ के पिता ने दो शादियाां की थी

बकौल चंद्रज्योति देवी दिनेश के पिता ने दो शादियां की थी। चंद्रज्योति देवी दिनेश के पिता की दूसरी पत्नी हैं। दिनेश के पिता ने अपनी पहली पत्नी के निधन के बाद दूसरी शादी की थी। पहली पत्नी से दिनेश के पिता को दो बेटियां थीं- सुशीला और आशा। दोनों बहनों की शादी हो चुकी है। चंद्रज्योति देवी ने कहा कि वो दोनों बहनों से ज्यादा व्यवहार नहीं रखती हैं।

इस तरह का है दिनेश का परिवार

दिनेश के अलावा उनके परिवार में माता-पिता के अलावा छोटा भाई परवेश और बहन ललिता है। परवेश मुंबई में ही रहता है जबकि ललिता की शादी हो चुकी है। चंद्रज्योति देवी के मुंबई में नहीं रहने के सवाल पर वो कहती हैं कि वो मुंबई अपने बेटे-बहु के पास आती-जाती रहती हैं। उनका कहना है कि गांव में खेतीबाड़ी है और उसका भी ध्यान रखना है इसलिए वो गांव में ही रहती हैं।

कोलकाता में हुई प्रारंभिक शिक्षा

बता दें कि दिनेश लाल यादव उर्फ निरहुआ उत्तर प्रदेश के गाजीपुर के एक छोटे से गांव टंडवा से ताल्लुक रखते हैं। दिनेश की मां का कहना है कि घर का खर्च निकालने के लिए निरहुआ के पिता अपने परिवार को गांव में ही छोड़कर कोलकाता चले गए थे। दिनेश के पिता कोलकाता में 3,500 रुपए महीने के वेतन पर मजदूरी करते थे। उनके पिता कोलकाता में झोपड़पट्टी में रहते थे।

क्रिकेट से था विशेष लगाव

दिनेश लाल यादव की शुरुआती शिक्षा-दीक्षा कोलकाता में ही हुई। दिनेश ने मलिकपुरा कॉलेज से बीकॉम की पढ़ाई पूरी की। दिनेश को क्रिकेट खेलने का भी शौक था। वो जब भी मैदान में उतरते थे, चौके-छक्के की बरसात कर देते थे।

(Visited 3,826 times, 1 visits today)
मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें