बिहार में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच फिर से लॉकडाउन, पटना समेत कई जिले बंद

बिहार में कोरोना

पटना। बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच राज्य सरकार ने राजधानी पटना समेत कई जिलों को फिर से बंद कर दिया है। जिन जिलों को फिर से लॉकडाउन किया गया है वहां पर सभी आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सभी गतिविधियाँ बंद रहेंगी। राज्य के भागलपुर, पटना, किशनगंज और नवादा जिले को फिर से बंद कर दिया गया है।

राजधानी पटना में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमितों की संख्या को देखते हुए जिला प्रशासन ने 10 से 16 जुलाई तक राजधानी पटना को फिर से लॉकडाउन कर दिया है। डीएम कुमार रवि ने छह दिनों के लिए लॉकडाउन लगाने का आदेश बुधवार शाम को जारी किया। पटना में आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सभी सरकारी व निजी कार्यालय, धार्मिक स्थान आदि बंद रहेंगे।

भागलपुर 4 दिनों के लिए बंद

बिहार के भागलपुर में भी कोरोना संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ रही है। कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले को देखते हुए भागलपुर को गुरुवार से चार दिनों तक के लिए बंद कर दिया गया है। आवश्यक सेवाओं को छोड़कर शहर में सभी तरह की गतिविधियों पर पूर्णत: रोक लगा दी गई है। मंगलवार को डीएम की अध्यक्षता में इसका निर्णय किया गया।

यह भी पढ़ें -   सिग्नेचर ब्रिज पर बड़ा हादसा, सेल्फी के चक्कर में गई दो बाइक सवार की जान

राज्य के किशनगंज जिले को भी 72 घंटों के लिए बंद किया गया है। किशनगंज के शहरी क्षेत्र में कोरोना के सामुदायिक संक्रमण के बढ़ते मामले को देखते भीड़ भाड़ वाले जगहों पर मंगलवार, 7 जुलाई से 72 घंटे के लिए लॉक डाउन लगाया गया। शहर में सुबह 7 बजे से लॉकडाउन लागू रहेगा। डीएम आदित्य प्रकाश ने इस संबंध में निर्देश जारी करते हुए बताया कि शहरी क्षेत्र में जहां ज्यादा भीड़-भाड़ वाला इलाका है और जहां संक्रमण ज्यादा फैला है। ऐसे जगहों को चिन्हित कर 72 घंटे का लॉकडाउन लगाया गया है।

यह भी पढ़ें -   Corona Update: पिछले 24 घंटे में 9304 नए मरीज, कुल मरीज हुए 216919 तक
नवादा और कैमूर भी बंद

नवादा और कैमूर जिले को भी कोरोना संक्रमितों की संख्या वृद्धि होने के कारण बंद कर दिया गया है। जिले में 10 जुलाई के पूर्ण लॉकडाउन लागू किया गया है। नवादा और कैमूर के शहरी क्षेत्र, नगर पंचायत एवं प्रखंड मुख्यालय के बाजारों को 3 दिनों के लिए बंद किया गया है।