सपने में लड्डू गोपाल को देखना या मूर्ति देखने का क्या मतलब है?

सपने में लड्डू गोपाल की मूर्ति देखना

Sapne me Laddu Gopal: सपने में अक्सर हम कई चीजों को देखते हैं। सपनों का मतलब भी अलग-अलग सपने की तरह अलग-अलग होता है। सपने में लड्डू गोपाल की मूर्ति देखना (Sapne me Laddu Gopal) एक शुभ संकेत होता है। भगवान कृष्ण की मूर्ति सपने में यदि दिखाई दे तो यह जीवन में आने वाली शुभता का संकेत होता है।

Join Whatsapp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

भगवान श्रीकृष्ण के बाल स्वरूप का दर्शन बड़ा ही मनमोहक होता है। बालरूप में श्री कृष्ण का दर्शन अत्यंत ही दुर्लभ होता है। सपने में ठाकुर जी को देखना किसी दुर्लभ संयोग से कम नहीं है। आपको सपने में भी यदि श्री कृष्ण के बालरूप (Sapne me Laddu Gopal) का दर्शन हुआ है तो आप बहुत ही भाग्यशाली हैं। यह दर्शाता है कि आपके ऊपर भगवान कृष्ण की विशेष कृपा है। भगवान कृष्ण बचपन में बड़े नटखट थे। वे अक्सर माखन चुराकर खाते थे।

सपने में अन्य देवताओं को भी देखना शुभ माना जाता है। सपने में माता दुर्गा का दर्शन भी एक शुभ संकेत होता है। यदि आपको सपने में माता दुर्गा के दर्शन हुए हैं तो आपको ऊपर माता की असीम कृपा है। माँ आपसे प्रसन्न हैं और जिसपर माँ प्रसन्न होती हैं उनके जीवन में हमेशा खुशियाँ बनी रहती है। माँ अपने भक्तों की झोली धन-संपदा से भर देती हैं।

सपने में लड्डू गोपाल की मूर्ति देखना

सपने में यदि लड्डू सोते हुए मुस्कुरा रहे हैं तो यह एक शुभ संकेत होता है। इसका अर्थ है कि आपको शत्रुओं पर विजय की प्राप्ति होने वाली है। कृष्ण का बाल रूप बेहद की अलौकिक होता है। इस सपने में का मतलब होता है कि भगवान की असीम कृपा आपके ऊपर है और आपको भगवान की सेवा निरंतर सच्चे मन से करना चाहिए। लड्डू गोपाल आपके घर को सुख-शांति से भर देंगे।

सपने में लड्डू गोपाल को हंसते हुए देखना

Sapne me Laddu Gopal ko haste dekhna – सपने में लड्डू गोपाल को हंसते हुए देखना यह संकेत होता है कि आपके जीवन में कुछ बुरा नहीं होगा। आपको सबकुछ ठाकुर जी के ऊपर छोड़कर अपना कर्म करते रहना चाहिए। लड्डू गोपाल की कृपा से जीवन में सभी काम सफल होंगे और कभी भी दुख और कष्ट का सामना नहीं करना पड़ेगा।

यदि सपने में लड्डू गोपाल (Laddu Gopal) प्रसन्नचित्त मुद्रा में दिखाई देते हैं तो इसका मतलब है कि आपकी सेवा से प्रभू बहुत प्रसन्न हैं। आपकी सरल सहज भाव से की गई पूजा को भगवान गोपाल कृष्ण ने स्वीकार कर लिया है। वह आपके ऊपर प्रसन्न हैं और आपकी जो भी इच्छा है वह जल्द ही पूरी हो सकती है।

सपने में लड्डू गोपाल की पूजा करना

सपने में लड्डू गोपाल की पूजा करना भी शुभ माना जाता है। यह सपना इस बात का संकेत होता है कि आपने लड्डू गोपाल की सेवा में कोई कमी रखी हुई है। आपको लड्डू गोपाल की सेवा सच्चे मन से और पूर्ण समर्पित भाव से करनी चाहिए। लड्डू गोपाल को एक छोटे बच्चे की तरह सेवा करना चाहिए।

विद्यार्थी के सपने में लड्डू गोपाल दिखने का मतलब

यदि किसी स्टूडेंट के सपने में लड्डू दिखाई दिया है तो यह संकेत होता है कि आने वाले समय में उस विद्यार्थी की पढ़ाई-लिखाई अच्छी से होने वाली है। उन्हें परीक्षा में अच्छी सफलता प्राप्त हो सकती है। इस सपने को देखने के बाद विद्यार्थी को अपनी पढ़ाई में और मन लगा देना चाहिए।

सपने में लड्डू गोपाल का श्रंगार करना

सपने में लड्डू गोपाल का श्रंगार करते हुए देखना इस बात का संकेत होता है कि आपको किसी शादी या किसी समारोह में शामिल होने का मौका मिलेगा। इसके साथ ही आपके जीवन में शादी या किसी प्रकार के समारोह का होना निश्चित है। इसलिए यदि आपको इस प्रकार का सपना दिखाई देता है तो आपको खुश हो जाना चाहिए।

यह भी पढ़ें -   सपने में सांप दिखना - सपने में सांप नजर आने का मतलब और अच्छे-बुरे संकेत

सपने में लड्डू गोपाल को खाना खिलाना

सपने में लड्डू गोपाल को खाना खिलाते हुए देखने का मतलब होता है कि आपके घर में कभी भी अन्न का भंडार कम नहीं होगा। खुद को सपने में लड्डू गोपाल को दूध पिलाते हुए देखना इस बात का संकेत होता है कि आपके जीवन में कभी भी धन की कमी नहीं होगी।

यदि आप किसी दूसरे व्यक्ति को सपने में लड्डू गोपाल को दूध पिलाते हुए देखते हैं तो इसका मतलब होता है कि उस व्यक्ति के घर में से सभी प्रकार के कष्ट दूर होंगे और जीवन में खुशी का आगमन होगा।

सपने में लड्डू गोपाल के कपड़े देखना

सपने में लड्डू गोपाल के कपड़े देखने का मतलब होता है कि आपके जीवन में खुशियां आने वाली है। यदि आप सपने में लड्डू गोपाल के कपड़े खरीदते हुए देखते हैं या सपने में लड्डू गोपाल को कपड़े पहनाते हुए देखते हैं तो यह सपना यह संकेत करता है कि आपके जीवन में किसी बच्चे के रूप में नई खुशियां आने वाली है।

सपने में लड्डू गोपाल को गिरते हुए देखना

सपने में लड्डू गोपाल को गिरते हुए देखना या सपने में लड्डू गोपाल की मूर्ति को गिरते हुए देखना अच्छा संकेत नहीं माना जाता है। यह इस बात का संकेत होता है कि आपके जीवन में कोई घटना होने वाली है। आपको समय रहते हुए सतर्क हो जाना चाहिए और ईश्वर से प्रार्थना करनी चाहिए कि कुछ भी अनिष्ट ना हो। यह सपना यह भी संकेत करता है कि लड्डू गोपाल की सेवा में कोई कमी रह गई है और वह आपसे नाराज हैं।

लड्डू गोपाल को खंडित देखना

यदि आप स्वप्न में लड्डू गोपाल की मूर्ति को खंडित या टूटी हुए अवस्था में देखते हैं तो यह सपना इस बात का संकेत होता है कि आपके जीवन में कुछ दुर्घटना होने की आशंका है। आपको हरे कृष्णा हरे कृष्णा, कृष्णा कृष्णा हरे हरे। हरे रामा हरे रामा, रामा रामा हरे हरे।। का जाप 108 बार प्रतिदिन करना चाहिए।

लड्डू गोपाल से बात करना

यदि आप स्वप्न में लड्डू गोपाल से बात करते हुए खुद को देखते हैं तो यह मतलब होता है कि आपके सारे कष्ट दूर होने वाले हैं। यदि आप किसी दूसरे व्यक्ति को लड्डू गोपाल का श्रृंगार करते हुए स्वप्न में देखते हैं तो इसका मतलब होता है कि आपके द्वारा उस व्यक्ति के कष्ट दूर किए जाएंगे।

लड्डू गोपाल को गुस्से में देखना

यदि आप स्वप्न में लड्डू गोपाल को नाराज होते हुए देखते हैं या क्रोधित होते हुए देखते हैं तो परेशान होने की जरूरत नहीं है। यह सपना इस बात का संकेत करता है कि वह किसी चीज को लेकर जिद कर रहे हैं। आपको उनकी वह इच्छा पूरी करनी चाहिए। हो सकता है कि आप उन्हें उनकी पसंदीदा वस्तु अर्पित करना भूल गए हैं।

सपने में लड्डू गोपाल को नहलाना

सपने में लड्डू गोपाल को नहलाना एक शुभ सपना माना जाता है। यह सपना इस बात का संकेत होता है कि आप सच्चे मन से लड्डू गोपाल की पूजा कर रहे हैं। लड्डू गोपाल आपकी पूजा से प्रसन्न हैं और आपसे सेवा कराना उन्हें अच्छा लगता है। यह सपना इस बात का संकेत होता है कि आप बहुत ही भाग्यशाली हैं कि आपको लड्डू गोपाल की सेवा करने का मौका मिला है।

यह भी पढ़ें -   Sapne me Shiv Mandir Dekhna: सपने में शिव मंदिर देखने का मतलब

सपने में लड्डू गोपाल को रोते हुए देखना

सपने में लड्डू गोपाल को रोते हुए देखना अच्छा सपना नहीं होता है। हालांकि इसमें घबराने की जरूरत नहीं है। यह ठाकुर जी की लीला है। यह सपना इस बात का संकेत होता है कि आप भोग में कोई चीज रखना भूल गए हैं। आप लड्डू गोपाल को खाना खिलाने वक्त कोई चीज देना भूल गए हैं। इसलिए इस सपने का मतलब होता है कि आपको गोपाल जी को खाना खिलाते वक्त हर चीज खाने में देना चाहिए। सुलाते वक्त भी गोपाल जी के पास उनकी पसंदीदा चीजों को रखना चाहिए।

घर में लड्डू गोपाल की सेवा कैसे करें?

जब भी घर में लड्डू गोपाल को लाएं तो हमेशा उनसे बच्चे की तरह ही व्यवहार करें। जैसे हम अपने छोटे बच्चों के साथ करते हैं। यहां पर ठाकुर जी के बचपन के स्वरूप लड्डू गोपाल के साथ भक्त और भगवान का रिश्ता नहीं बल्कि माता-पिता और बच्चों के जैसा रिश्ता लड्डू गोपाल से रखना चाहिए।

सपने में लड्डू गोपाल (Sapne me Gopal) की मूर्ति दिखने का मतलब होता है कि जल्द ही आपके घर में नए मेहमान आने वाले हैं। यदि आप नि:संतान हैं तो आपको संतान की प्राप्ति होगी। यदि पहले से ही आपको संतान है तो उनका सुख आपको प्राप्त होगा।

यदि सपने में लड्डू गोपाल जी को झूला झूलते हुए देखते हैं तो यह इस बात का संकेत होता है कि भविष्य में आपका सकारात्मक पक्ष मजबूत होगा। आपको जीवन में मनोवांछित फल की प्राप्ति होगी।

लड्डू गोपाल की पीतल की मूर्ति सपने में देखना

कई लोगों को सपने में लड्डू गोपाल की पीतल की मूर्ति दिखती है। सपने में लड्डू गोपाल की पीतल की मूर्ति देखने का मतलब होता है कि आपके जीवन में भगवान की कृपा होने वाली है और घर में सुख समृद्धि में वृद्धि होने वाली है। यदि किसी के घर में भगवान की मूर्ति पीतल की बनी हुई है तो ज्येष्ठ नक्षत्र में लगाकर उत्तर दिशा की ओर मुख करके रखना शुभ होता है।

पीतल को पंच धातुओं में से एक माना जाता है। हिंदू धार्मिक ग्रंथों में पीतल को सदियों से एक मिश्रित धातु के रूप में शुभ माना गया है। इसलिए इसका उपयोग मंदिरों को बनाने और मूर्तियों को बनाने में किया जाता है। यदि आपके सपने में लड्डू गोपाल की पीतल की मूर्ति दिखती है तो यह एक शुभ संकेत होता है।

मासिक धर्म में लड्डू गोपाल की पूजा कैसे करें?

यदि आप अपने घर में लड्डू गोपाल की सेवा करती हैं तो मासिक धर्म के दौरान आपको इस बात का खास ख्याल रखना चाहिए कि लड्डू गोपाल की पूजा कैसे करें? मासिक धर्म के दौरान जब भी आप लड्डू गोपाल की सेवा करें तो इस बात का ध्यान रखें कि भगवान का स्पर्श नहीं होना चाहिए।

ठाकुर जी की सेवा के दौरान उन्हें रोजाना स्नान करवाएं और चार समय भोग लगाएं। ऐसे में आप प्रसाद दूसरे किसी से बनवाकर भोग लगा सकती हैं। मासिक धर्म के दौरान ना तो आपको लड्डू गोपाल की मूर्ति को स्पर्श करना है और ना ही उन्हें खुद के बनाए हुए भोग अर्पित करना है।

घर में लड्डू गोपाल की मूर्ति कितनी बड़ी होनी चाहिए?

मंदिरों में बड़ी मूर्ति रखना शुभ होता है लेकिन यदि आप अपने घर में किसी भगवान की मूर्ति रखते हैं तो हमेशा छोटी मूर्ति ही शुभ मानी जाती है। अपने घर में लड्डू गोपाल की मूर्ति हमेशा छोटी रखें। लड्डू गोपाल की बड़ी मूर्ति घर में नहीं रखना चाहिए। आप अपने घर में अंगूठे के आकार की या 3 इंच तक की लड्डू गोपाल की मूर्ति अपने घर में रखें। यह शुभ होता है।

यह भी पढ़ें -   Sapne me Kali Mata Dekhna - सपने में काली माता को देखना देता है यह संकेत

लड्डू गोपाल को कब सुलाना चाहिए?

लड्डू गोपाल की सेवा के दौरान इस बात का भी ध्यान रखें कि उनके सोने और जागने का समय निश्चित होता है। जिस प्रकार घर के बच्चों को आप नियमित रूप से समय पर सुलाती हैं वैसे ही लड्डू गोपाल को भी जल्दी ही सुला देना चाहिए। सर्दियों के मौसम में लड्डू गोपाल को रात की आरती के बाद 8:00 से 9:00 के बीच सुला देना चाहिए।

गर्मियों के मौसम में दिन बड़ा होता है इसलिए कई बार हम लोग लेट से सोते हैं। लेकिन यदि आपके घर में लड्डू गोपाल की मूर्ति है और आप उसकी सेवा करते हैं तो आपको इस बात का ध्यान रखना है कि अपने बच्चों के साथ साथ लड्डू गोपाल को भी 9:00 से 10:00 के बीच सुला दें। लड्डू गोपाल को भी जल्दी विश्राम करने देना शुभ होता है।

कान्हा जी को सुबह कितने बजे उठाना चाहिए?

लड्डू गोपाल को घर में रात के समय चलाने के साथ-साथ सुबह जगने का भी समय निश्चित करना शुभ होता है। सुबह 6:00 से लेकर 7:00 के बीच सबसे पहले घंटी बजाते हुए या फिर लयबद्ध तरीके से ताली बजाते हुए लड्डू गोपाल को जगाना चाहिए। लड्डू गोपाल को जगाने के बाद सबसे पहला भोग अर्पित करना चाहिए।

लड्डू गोपाल को घर में रखने से क्या फायदा होता है?

लड्डू गोपाल को घर में रखने से घर में हमेशा सुख समृद्धि बनी रहती है। ऐसा माना जाता है कि जिस घर में लड्डू गोपाल की मूर्ति होती है और उनकी नियमित रूप से सेवा होती है, वहां पर हमेशा ही सुख समृद्धि बनी रहती है। यदि आप लड्डू गोपाल को घर में लाते हैं तो उनकी सेवा अवश्य करें। घर में नियमित रूप से लड्डू गोपाल की सेवा करने से व्यक्ति को मानसिक शांति मिलती है।

लड्डू गोपाल को कौन सा चंदन लगाना चाहिए?

भगवान विष्णु को पीला चंदन अत्यंत ही प्रिय है। साथ ही लाल चंदन, केसर युक्त चंदन से तिलक किया जा सकता है। सबसे ज्यादा शुभ हरि चंदन को माना जाता है। लड्डू गोपाल को भी हरि चंदन ही लगाना चाहिए। यह बहुत ही शुभ होता है।

लड्डू गोपाल को क्या नहीं खिलाना चाहिए?

लड्डू गोपाल को भोग लगाते समय इस बात का ध्यान रखें कि खाने में प्याज, लहसुन और किसी भी प्रकार के नॉनवेज का इस्तेमाल नहीं करें। आपके रसोई में जो कुछ भी सात्विक भोजन बनता हैं, उसका भोग लड्डू गोपाल अवश्य लगाएं। इससे लड्डू गोपाल की कृपा प्राप्त होती है।

लड्डू गोपाल को किसी को गिफ्ट कर सकते हैं?

कई लोगों का मानना है कि लड्डू गोपाल एक बच्चे की तरह होते हैं और अपना बच्चा कोई किसी को गिफ्ट नहीं करता है। इसलिए लड्डू गोपाल को गिफ्ट करना ठीक नहीं होता है। इसलिए लड्डू गोपाल को किसी को गिफ्ट नहीं करना चाहिए।

लड्डू गोपाल को कौन सा फूल पसंद है?

पीले रंग का वस्त्र और रंग भगवान कृष्ण बहुत ही प्रिय है। जन्माष्टमी के दिन लड्डू गोपाल का श्रंगार में कान के कुंडल, बाजूबंध, कमरबंध, हाथ का कड़ा, पायल और वैजयंती माला जरूर पहनाना चाहिए। वस्त्र पीले रंग के हो तो और भी शुभ होता है।

Join Whatsapp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

Follow us on Google News

देश और दुनिया की ताजा खबरों के लिए बने रहें हमारे साथ। लेटेस्ट न्यूज के लिए हन्ट आई न्यूज के होमपेज पर जाएं। आप हमें फेसबुक, पर फॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब कर सकते हैं।