भारत में धूमकेतु नियोवाइज 20 दिनों तक दिखेगा, आसमान में होगा दुर्लभ नजारा

भारत में धूमकेतु

नई दिल्ली। भारत में धूमकेतु सी/2020 एफ-3 जिसे नियोवाइज के नाम से भी जाना जाता है वह भारत में 14 जुलाई से दिखाई देगा। यह धूमकेतु भारत में लगातार 20 दिनों तक आसमान में दिखाई देगा।

Join Whatsapp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

भुवनेश्वर के पठानी सामंत तारामंडल के उप निदेशक के अनुसार, इस धूमकेतु को भारत में लोग नंगी आँखों से देख सकेंगे। यह धूमकेतु अगले 20 दिनों तक सूर्यास्त के बाद 20 मिनट तक के लिए दिखाई देगा।

3 जुलाई को यह धूमकेतु सूर्य के सबसे निकट पहुंचा था। सामंत तारामंडल के अनुसार, 22 जुलाई को यह धूमकेतु पृथ्वी के सबसे निकट 10.3 करोड़ किलोमीटर की दूरी पर होगा। शुरुआत में यह शाम के वक्त दिखेगा। धीरे-धीरे इसे रात में लंबे समय तक देखा जा सकेगा।

यह भी पढ़ें -   सूर्य की सतह की चौकाने वाली तस्वीर आई सामने, दिखता है ऐसा...

डॉक्टर शुभेंदु पटनायक के अनुसार, यह धूमकेतु 14 जुलाई को शाम में नजर आएगा। शाम के समय इसे दूरबीन की मदद से आसानी से देखा जा सकता है। शाम के समय यह धूमकेतु आसमान में धीरे-धीरे ऊपर चढ़ेगा और लंबे वक्त के लिए दिखाई देगा। 30 जुलाई को इसे सप्तऋषि तारामंडल के पास देखा जाएगा।

बता दें कि ऐसा अवसर 23 साल बाद आ रहा है जब यह धूमकेतु दिखाई दे रहा है। इससे पहले 1997 में अंतिम बार हेल वफ धूमकेतु को नंगी आँखों से देखा गया था। सूर्यास्त के बाद इस धूमकेतु के 25 से 30 मिनट तक उत्तर-पश्चिम दिशा में देखा जा सकता है।

यह भी पढ़ें -   2021 में आईबीएम लाएगा दुनिया का पहला वर्किंग Quantum Computer
धूमकेतु क्या है और कहां से आता है?

धूमकेतु एक विशाला तारा होता है। हमारे सौरमंडल में लाखों की संख्या में धूमकेतु सूर्य के चक्कर लगा रहे हैं। हाली नामक धूमकेतु 76 साल के अंतराल पर दिखाई देता है। यह धूमकेतु अब 2061 में दिखाई देगा। धूमकेतु कुछ किलोमीटर व्यास के पत्थर, बर्फ एवं धूल का एक कठोर पिंड होता है। यह अत्यंत ठंडी अवस्था में सूर्य के पास से चक्कर लगाता है।

Join Whatsapp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

Follow us on Google News

देश और दुनिया की ताजा खबरों के लिए बने रहें हमारे साथ। लेटेस्ट न्यूज के लिए हन्ट आई न्यूज के होमपेज पर जाएं। आप हमें फेसबुक, पर फॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब कर सकते हैं।