दिग्गज प्रोद्योगिकी कंपनी गूगल 10 अरब डॉलर भारत में करेगी निवेश

गूगल

नई दिल्ली। दुनिया की दिग्गज प्रोद्योगिकी कंपनी गूगल भारत में 10 अरब डॉलर (75,000 करोड़) की राशि निवेश करेगी। यह राशि भारत में अगले 5 से 7 सालों में निवेश किया जाएगा। गूगल और उसकी पैरेंट कंपनी अल्फाबेट के सीईओ सुंदर पिचई ने इस बात की घोषणा सोमवार को किया।

राशि का इस्तेमाल इक्टिवी इंवेस्टमेंट और ऑपरेशनल इन्फ्रास्ट्रक्चर के विकास में होगा

गूगल सीईओ सुंदर पिचई ने गूगल फॉर इंडिया डिडिटाइजेशन फंड का ऐलान करते हुए कहा कि गूगल भारत में अगले पांच से सात साल में 10 अरब डॉलर का निवेश करेगी। पिचई ने कहा कि कंपनी इस फंड का इस्तेमाल इक्टिवी इंवेस्टमेंट से साथ-साथ इकोसिस्टम इंवेस्टमेंट के जरिए पार्टनरशिप और ऑपरेशनल इन्फ्रास्ट्रक्चर के विकास में किया जाएगा।

इस फंड का ऐलान करने के बाद गूगल फॉर इंडिया कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पिचई ने कहा कि निवेश से जुड़ा यह फैसला भारत और वहां की डिजिटल इकोनॉमी के भविष्य में कंपनी के विश्वास को दिखता है। इस निवेश में भारत के डिजिटलीकरण से जुड़े चार प्रमुख बिन्दुओं पर ध्यान दिया जाएगा। ये चार अहम बिन्दु इस प्रकार हैंः

यह भी पढ़ें -   पेट्रोल-डीजल फिर हुआ सस्ता, जानें नई दरें

1. हर भारतीय को उसकी अपनी भाषा में जानकारी उपलब्ध कराना।

2. भारत की अपनी जरूरतों के हिसाब से नए प्रोडक्ट्स एवं सर्विसेज विकसित करना।

3. बिजनेसेज को डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन के हिसाब से सशक्त बनाना

4. हेल्थकेयर, एजुकेशन और कृषि जैसे क्षेत्रों में प्रौद्योगिकी और आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस का इस्तेमाल

बता दें कि गूगल ने इससे पहले भारत में बड़ा निवेश किया था। भारतीय रेलवे के प्रोजेक्ट में गूगल में इन्वेस्ट किया था। रेलवे के इस प्रोजेक्ट के तहत देश के सभी महत्वपूर्ण स्टेशनों को मुफ्त वाईफाई से लैस किया गया था।