भारी जुर्माने पर आया परिवहन मंत्री नितिन गडकरी का पहला बयान, कहा…

motor vehicle act

नई दिल्ली। केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने न्यू मोटर व्हीकल एक्ट (motor vehicle act) पर पहली बार अपना बयान दिया है। नितिन गडकरी ने कहा कि लोगों के अंदर सड़क सुरक्षा को लेकर जागरूकता आनी चाहिए। बता दें कि देश भर में न्यू मोटर व्हीकल एक्ट (motor vehicle act) का विरोध हो रहा है। एक्ट में पहले के मुकाबले अब बहुत ज्यादा जुर्माने की राशि का प्रावधान है। वहीं नितिन गडकरी ने कानून का बचाव करते हुए कहा कि लोगों के अंदर कानून का डर होना बहुत जरूरी है।

यह भी पढ़ें -   दुनिया में कोरोना से कई देश परेशान, अमेरिका में हालात हुए बेहद खराब

देश के अलग-अलग हिस्सों में मोटर व्हीकल एक्ट (motor vehicle act) के लागू होने के बाद लोगों को यातायात नियमों के उल्लंघन पर भारी-भरकम जुर्माना भरना पड़ रहा है। नितिन गडकरी ने कहा कि हमें कानून का सम्मान करना चाहिए और लोगों के अंदर कानून का डर भी होना चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर ट्रैफिक की अनदेखी से कोई एक्सीडेंट होता है तो इसकी जिम्मेदारी कौन लेगा?

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि सरकार नहीं चाहती थी कि जुर्माने की रकम को इतना बढ़ाया जाय, लेकिन ऐसा करना पड़ा। उन्होंने कहा कि सरकार चाहती है कि देश में इस तरह का कोई जुर्माना ही न हो। हर कोई ट्रैफिक नियमों का सख्ती से पालन करे। केंद्र सरकार द्वारा लाए गए न्यू मोटर व्हीकल एक्ट का देशभर में विरोध हो रहा है।

यह भी पढ़ें -   Motor Vehicle Act 2019: गाड़ी चलाते वक्त रखें इन बातों का ध्यान, नहीं कटेगा चालान

एक्ट के विरोध में ट्रांसपोर्ट यूनियन, टैक्सी यूनियन सहित कई संगठनों ने आवाज उठाने की बात की है। भारत में राजस्थान और पश्चिम बंगाल को छोड़कर न्यू मोटर व्हीकल एक्ट (motor vehicle act) 1 सितंबर 2019 से लागू हो गया है। ट्रांस्पोर्ट यूनियन ने इस एक्ट के खिलाफ 9 सितंबर से चक्का जाम करने का ऐलान किया है। हालांकि सरकार ने अभी तक इस मसले पीछे हटने का कोई संकेत नहीं दिया है।

गौरतलब है कि केंद्र द्वारा लागू नए मोटर व्हीकल एक्ट में हुए संशोधन के बाद अब ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने पर 10 गुना तक अधिक जुर्माना भरना पड़ेगा।

यह भी पढ़ें -   नीति आयोग ने जारी किया नया आंकड़ा, चिदंबरम भड़के, कहा- भंग किया जाए आयोग

देश और दुनिया की ताजा खबरों के लिए बने रहें हमारे साथ। लेटेस्ट न्यूज के लिए हन्ट आई न्यूज के होमपेज पर जाएं। आप हमें फेसबुक, पर फॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब कर सकते हैं। खबरों का अपडेट लगातार पाने के लिए हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें।