दिल्ली-एनसीआर में भूकंप के झटके, लगातार डोलती दिल्ली जोन 4 में शामिल

दिल्ली-एनसीआर भूकंप

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली-एनसीआर और आसपास के इलाकों में फिर से भूकंप के झटके महसूस किए गए। दिल्ली में लगातार दूसरे दिन भूकंप आया है। रविवार शाम को भी दिल्ली में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। रविवार को भूकंप आने के बाद लोग अपने घरों से बाहर निकल गए थे।

मौसम विभाग ने रविवार को आए भूकंप के झटके की तीव्रता 3.5 स्केल मापा था। हालांकि लोगों का कहना था कि इसकी तीव्रता इससे ज्यादा थी। लगातार भूकंप के झटके आने से दिल्ली में लोगों के अंदर डर बस गया है। लोग चिंतित हैं।

सोमवार को दिल्ली-एनसीआर में भूकंप दोपहर 1 बजकर 26 मिनट पर आया। हालांकि दोनों ही दिन के भूकंप के बाद अबतक किसी भी प्रकार के जानमाल के नुकसान की खबर नहीं है। मौसम विभाग के मुताबिक, भूकंप का केंद्र पूर्वी दिल्ली था।

यह भी पढ़ें -   डेढ़ घंटे पहले पैदा हुई बेटी को मां ने उतारा मौत के घाट, कहा- बस अब और नहीं...

रविवार दिल्ली में आए भूकंप के झटके का केंद्र पूर्वी दिल्ली में जमीन के 8 किलोमीटर अंदर था। जबकि सोमवार को भूकंप का केंद्र पूर्वी दिल्ली ही था। लेकिन भूकंप का केंद्र मात्र 5 किलोमीटर नीचे स्थित था। बता दें कि दिल्ली और आसपास के इलाके भूकंप के लिहाज से बेहद ही संवेदनशील इलाकों में आते हैं। यहां पर भूकंप आने से जानमाल की काफी नुकसान हो सकता है।

भारत को भूकंप के लिहाज से 4 जोन में बांटा गया है। मैक्रो सेस्मिक जोनिंग मैपिंग दिल्ली को जोन 4 में रखा गया है। जोन 2 सबसे कम संवेदनशील क्षेत्र माना जाता है। यहां पर नुकसान की संभावना बेहद ही कम होती है जबकि जोन 5 में नुकसान की संभावना बहुत ही ज्यादा होती है।

यह भी पढ़ें -   नीतीश का छलका दर्द, बोले- जीएसटी मेगा इवेंट का नहीं मिला न्योता

भारत का उत्तरी क्षेत्र भूकंप के लिहाज से बेहद संवेदनशील इलाका माना जाता है। उत्तरी भारत का हिमालय पर्वत श्रंखला की तराई का क्षेत्र जोन 5 में आता है।

You May Like This!😊