कोरोना वायरस के लक्षण, बीमारी और उपचार, ऐसे पहचाने कोरोना के मरीज को

कोरोना वायरस के लक्षण

डेस्क। कोरोना वायरस तेजी से विश्व के कई देशों में अपना पांव पसार रहा है। धीरे-धीरे कोरोना वायरस अब भारत में अपना विस्तार कर रहा है। भारत में अबतक 70 से ज्यादा लोग इसकी चपेट में आ चुके हैं। कोरोना वायरस के लक्षण वैसे तो भारत के मौसमी सर्दी बुखार से मिलती-जुलती है, लेकिन फिर भी कोरोना वायरस के कुछ खास लक्षण से इसे आसानी से पहचाना जा सकता है।

कोरोना वायरस के लक्षण

यदि किसी व्यक्ति को कोरोना वायरस हो गया है तो उसे अचानक बुखार आता है। असके अलावा सूखी खांसी, मांसपेशियों में दर्द और बहुत थकान महसूस होने लगता है। कोरोना वायस के अन्य लक्षणों में व्यक्ति को खून वाली खांसी, सिर दर्द और दस्त होते हैं। वहीं सामान्य मौसमी बुखार में वयक्ति को अचानक बुखार और मांसपेशियों में दर्द होता है। मौसमी बुखार में भी सूखी खांसी के अलावा थकान, सिर दर्द, गले में दर्द और नाक से पानी बहता है। कोरोना वायरस होने पर व्यक्ति को निमोनिया, सांस लेने में परेशानी, मल्टीपल आर्गन फेल्योर जैसे मामले सामने आते हैं।

सामान्य सर्दी के लक्षण

सामान्य सर्दी होने के लक्षण इस प्रकार हैं। यदि किसी व्यक्ति को सर्दी हुई है तो इसकी शुरुआत कोरोना वायरस के विपरित धीरे-धीरे होती है। कोरोना वायरस में अचानक बुखार और थकान और मांसपेशियों में दर्द शुरु हो जाता है। सामान्य सर्दी के लक्षण- नाक बहना, छींकना, गले में दर्द होता है। सर्दी के अन्य लक्षणों में सामान्य बुखार, शरीर या मांसपेशियों में दर्द, सिरदर्द और थकान होता है।

यह भी पढ़ें -   Hindi Horoscope Daily - जानिए कैसा रहेगा 25 फरवरी का दिन
कोरोना वायरस का उपचार

फिलहाल कोरोना वायरस के लिए कोई वैक्सीन उपलब्ध नहीं है। बचाव और सर्तकता ही इसका एक मात्र उपाय है। अबतक के कई मामलों में उचित उपचार और देखभाल से व्यक्ति दो से छह सप्ताह के अंदर ठीक हो जा रहे हैं। कोरोना वायरस का संक्रमण एक से चौदह दिन तक रहता है। हालांकि कुछ मामलों में यह 24 दिनों तक भी रहता है। इस बिमारी में पांच फीसदी जटिल मामले सामने आते हैं। यदि किसी को कोरोना वायरस हो जाता है तो उसे इस बिमारी से मुक्ति मिलने में 2 से 6 सप्ताह तक का समय लगता है।

यह भी पढ़ें -   मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कोरोना वायरस को लेकर सतर्क, सरकार ने लिया बड़ा फैसला
कोरोना से बचाव कैसे करें
  • भीड़-भाड़ वाली जगह पर जाने से बचें (ज्यादा जरूरी हो तो ही जाएं)।
  • किसी भी व्यक्ति से 1.5 से 2 मीटर की दूरी बनाए रखें
  • किसी से हाथ न मिलाएं।
  • अपने हाथों को अच्छे से साफ करें और एलकोहलिक लिक्विड (हाथ धोने वाला) का इस्तेमाल करें।
  • मास्क का प्रयोग कर सकते हैं। यदि किसी को कोरोना वायरस के लक्षण दिखे तो तुरंत ही डॉक्टर से संपर्क करें।
  • कोरोना वायरस शरीर की प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होने पर ज्यादा असर दिखाता है। इसलिए शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बनाए रखें।
यह भी पढ़ें -   कोरोना से विस्थापित प्रवासी मजदूरों के लिए गृह मंत्रालय ने बदले नियम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *