कोरोना वायरस: कोरोना से मरने वालों की संख्या 3000 के पार, लूव्र संग्रहालय बंद

दक्षिण कोरिया में कोरोना

पेरिस। कोरोना वायरस का प्रकोप लगातार बढ़ता जा रहा है। कोरोना की वजह से अबतक 4000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। वायरस के प्रकोप के चलते फ्रांस के प्रसिद्ध लूव्र संग्रहालय को रविवार को बंद कर दिया गया। इसके कर्मचारियों ने इस वायरस के प्रकोप के मद्देनजर एक विशेष बैठक में इसे बंद करने को फैसला लिया।

मीडिया रिपोर्ट में यह जानकारी दी गयी है कि सरकार ने इस घातक विषाणु के तेजी से हो रहे प्रसार को देखते हुए गत शनिवार को संग्रहालय में पांच हजार से अधिक लोगों के इकट्ठा होने पर पाबंदी लगा दी थी।

राष्ट्रीय ले परिसियन अखबार के अनुसार फ्रांस में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की बढ़ती संख्या और कर्मचारियों की स्वास्थ्य चिंताओं को देखते हुए संग्रहालय के दरवाजे रविवार सुबह बंद कर दिये गये। प्रशासन ने संग्रहालय के कर्मचारियों को यह समझाने की कोशिश की कि उनकी चिंता जायज नहीं है, लेकिन संग्रहालय 300 कर्मचारियों में से 298 कर्मचारियों ने अपने अधिकारों का इस्तेमाल करने का फैसला लिया और काम करने से माना कर दिया।

यह भी पढ़ें -   बिहार में कोरोना संक्रमण फिर बढ़े, कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 320 के पार

स्वास्थ्य महानिदेशक जेरोमे सलोमोन के अनुसार देश में 100 से अधिक लोग कोरोना वायरस से ग्रसित हुए हैं, जिनमें से दो लोगों की मौत हो चुकी है। बता दें कि भारत में कोरोना वायरस के मामले सामने आ चुके हैं। हालांकि भारत सरकार मामले को लेकर पूरी तरह चौकन्ना है।

कोरोना से अबतक 4,212 लोग प्रभावित

दक्षिण कोरिया में कोरोना वायरस के 476 के नये मामले सामने आये हैं और इसके साथ ही यहां इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 4,212 हो गई है।

यह भी पढ़ें -   कोरोनावायरस हुआ और खतरनाक, अब हवा के जरिए फैल रहा है संक्रमण

स्वास्थ्य मंत्रालय के रोग नियंत्रण एवं रोकथाम केंद्र ने सोमवार को कहा कि इस घातक वायरस से मरने वालों की संख्या 22 हो गई है। स्वास्थ्य केंद्र ने बताया कि देश में कोरोना वायरस के 476 नये मामले सामने आये हैं और इसमें से सबसे अधिक 377 मामले दाएगू में दर्ज किये गये हैं। इसके मद्देनजर सरकार ने शनिवार को इसके खतरे की चेतावनी का स्तर ‘ऑरेंज से ‘रेड कर दिया था।