भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या 5000 से पार, 166 की मौत

भारत में कोरोना

नई दिल्ली। चीन के वुहान शहर से शुरू हुए कोरोना का कहर पूरी दुनिया झेल रही है। विश्व के कई विकसित देश भी कोरोना की चपेट में बुरी तरह से आ चुके है। भारत में कोरोना वायरस का संक्रमण सीमित लेकिन धीरे-धीरे बढ़ता जा रहा है। भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या 5000 के पार हो गई है। भारत में कुल कोरोना संक्रमितों की संख्या 5735 है जबकि इस बिमारी से अबतक 166 लोगों की मौत हो चुकी है।

भारत में कोरोना वायरस के कुल मामले 5735 हो चुके हैं जिसमें सक्रिय मरीजों की संख्या 5095 है। भारत के लिए राहत की बात यह है कि कोरोना से अबतक 472 लोग ठीक भी हुए हैं। भारत में कोरोना वायरस संक्रमण का पहला मामले दक्षिणी राज्य केरल में सबसे पहले आया था। केरल में सबसे पहले तीन लोगों में कोरोना वायरस पाया गया था। कुछ दिनों की इलाज के बाद उन्हें अस्पताल से छुट्टि दे दी गई। तीनों मरीज कोरोना की जंग जीत चुके थे।

हालांकि तबतक चीन में कोरोना ने कोहराम मचाकर रखा था। बता दें कि चीन में आधिकारिक रूप से इस बिमारी से 3000 से ज्यादा लोगों की मौत हुई है। हालांकि सोशल मीडिया पर चल रही खबरों की बात करें तो चीन के इस आंकड़ों पर कई लोगों ने संदेश जाहिर किया है और उनका कहना है कि चीन बाकी दुनिया से कोरोना का वास्तविक जानकारी छुपा रहा है। चीन में इस बिमारी से अत्यधिक मौते हुई होंगी।

यह भी पढ़ें -   भारत में कोरोना: सरकार अलर्ट, अभी तक 3000 से ज्यादा लोगों की मौत

वहीं लॉकडाउन अभी भारत में जारी है। सूत्रों के मुताबिक, सरकार वर्तमान लॉकडाउन को बढ़ाने पर विचार कर रही है। हालांकि अभी तक इस मुद्दे पर सरकार की तरफ से कोई आधिकारिक बयान नहीं है। हालांकि मुख्यमंत्रियों के साथ पीएम मोदी की मीटिंग के बाद ऐसे संकेत मिले थे कि केंद्र सरकार मौजूदा लॉकडाउन की अवधि को बढ़ा सकती है।

दूसरी तरफ केंद्र सरकार से दो कदम आगे चलते हुए ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने राज्य में लॉकडाउन की अवधि को 30 अप्रैल तक बढ़ा दिया है। ऐसा करने वाला ओडिशा देश का पहला राज्य बन गया है।