इतिहास के सबसे बड़े लॉकडाउन के बाद आज खुलेगा वुहान, यहीं से फैला था कोरोना

लॉकडाउन

नई दिल्ली। चीन के वुहान शहर से पनपे कोरोना वायरस देश और दुनिया में अपना डर बनाए हुए है। चीन में जिस तरह से मामले बढ़ रहे थे उसे देखते हुए 23 जनवरी को वुहान में लॉकडाउन लगाया गया था। अब 76 दिन बाद इस शहर से लॉकडाउन हटा दिया गया है। इस वायरस के डर से शहर की 11 मिलियन आबादी घरों में कैद थी, जो आज रात से वापस इस कैद से छुटकारा पा सकेंगे।

चीन का वुहान शहर कोरोना का केंद्र रहा है और इस शहर में घातक वायरस की वजह से 3300 से ज्यादा लोगों की जानें गई हैं। इस शहर में 82 हजार से ज्यादा लोग कोरोना से संक्रमित पाए गए थे। सरकारी आंकड़ों पर नजर डालें तो बीते कुछ हफ्तो से शहर में कोरोना के मामलों में तेजी से कमी आई है। मंगलवार को जारी सरकारी आंकड़ों में कोरोना का एक भी केस सामने नहीं आया।

चीन के वुहान में जब यह वायरस फैला था तब वुहान में चीन सरकार ने 76 दिनों का लॉकडाउन लगा दिया था। लॉकडाउन के दौरान लोगों को घरों से निकलने की सख्त मनाही थी। इस दौरान लोग केवल अति आवश्यक कार्यों के लिए ही घरों से निकल सकते थे। शहर की सीमाओं को पूरी तरह सील कर दिया था।

यह भी पढ़ें -   दुनिया में कोरोना से कई देश परेशान, अमेरिका में हालात हुए बेहद खराब

मालूम हो कि चीन के शहर वुहान में दिसंबर में कोरोना वायरस का पहला मामला सामने आया था। यहां के सीफूड और मीट बाजार से ये वायरस जानवर से धीरे-धीरे इंसानों तक पहुंचा और फिर यह महामारी में बदल गया। इस महामारी से दुनियाभर में अब तक 13 लाख से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं और 70 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।

दुनिया में कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा संक्रमित देशों में अमेरिका, स्पेन और इटली है। इन तीन देशों में कुछ संक्रमित मरीजौं की लगभग आधी आबादी है। अमेरिका में अब कोरोना से विकराल रूप ले लिया है। सोमवार और मंगलवार को अमेरिका में एक दिन में 1000 से ज्यादा माैतें हुई थी।