बेल का पेड़ किस दिशा में लगाना चाहिए? बेलपत्र लगाने के फायदे जानें

बेल का पेड़ किस दिशा में लगाना चाहिए?

Belpatra Plant Vastu – बेल का पेड़ किस दिशा में लगाना चाहिए? बेलपत्र का प्रयोग भगवान शिव की पूजा में किया जाता है। बेलपत्र बेल के पेड़ से मिलता है। सावन के महीने में बेलपत्र का महत्व बहुत ही अधिक होता है। भगवान शिव को सबसे प्रिय वस्तुओं में बेलपत्र है। बेलपत्र से शिव भगवान की पूजा करने से व्यक्ति की मनोकामना जल्द पूर्ण हो जाती है।

Join Whatsapp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

भगवान शिव से संबंधित कोई भी पूजा बिना बेलपत्र के संपन्न नहीं होता। ऐसे में बेलपत्र का महत्व कितना ज्यादा है, आप इसी बात से समझ सकते हैं। शिव जी के ऊपर बेलपत्र चढ़ाने से व्यक्ति के द्वारा भूलवश किए गए पाप नष्ट हो जाते हैं। इसलिए घर में बेल का पौधा लगाने से बहुत ही शुभ फल की प्राप्ति होती है।

ऐसे में कई लोगों में इस बात की दुविधा होती है कि घर में बेल का पेड़ किस दिशा में लगाना शुभ होता है। घर में कई तरह के पेड़ पौधे ऐसे होते हैं, जिसे लगाने से मना किया जाता है। लेकिन घर में बेलपत्र का पौधा लगाने से शुभ फल की प्राप्ति होती है। इसलिए यदि आपके घर में यह पौधा मौजूद है तो उसे लगा रहने दें और उसकी सेवा करें।

यह भी पढ़ें -   सोना खोना या मिलना दोनों होता है अशुभ, जानें कैसे मिलते हैं परिणाम

वास्तु के अलावा बेल के पेड़ का उपयोग कई प्रकार के औषधि को बनाने में भी किया जाता है। भगवान शिव की पूजा बेलपत्र से करने से हमारे जीवन में सुख समृद्धि आती है। सही दिशा में बेल का पेड़ लगाने से परिवार में किसी भी प्रकार की कोई समस्या नहीं होती और सदस्यों के बीच हमेशा प्रेम बना रहता है।

घर में बेल का पेड़ किस दिशा में लगाना चाहिए

यदि आप अपने घर में बेलपत्र का पेड़ लगाना चाहते हैं तो इसे उत्तर पश्चिम या उत्तर पूर्व की दिशा में लगाएं। ऐसा करने से बेल का पौधा लगाने वाले व्यक्ति को कई प्रकार के लाभ मिलते हैं। व्यक्ति को कई तीर्थों का फल भी प्राप्त होता है। इस पेड़ को घर के अलग-अलग दिशाओं में लगाने से अलग-अलग फल मिलता है।

उत्तर पश्चिम या वायव्य कोण में बेल का पेड़

घर के उत्तर पश्चिम में लगा हुआ बेल का पेड़ घर और परिवार के सदस्यों के मान सम्मान में वृद्धि करता है। इससे परिवार का यश चारों ओर फैलता है और उस घर में रहने वाले व्यक्ति जो भी कार्य करते हैं उसमें प्रगति मिलती है। इस दिशा में बेलपत्र का पेड़ लगाने से घर के सदस्यों की आयु में वृद्धि होती है।

यह भी पढ़ें -   Somvar Vastu Tips: सोमवार को किस देवता की पूजा करनी चाहिए?
उत्तर पूर्व दिशा में बेल का पौधा

घर के उत्तर पूर्व दिशा में बेल का पौधा लगाने से श्रेष्ठ फल की प्राप्ति होती है। इस दिशा में पौधा लगाने से घर में मां लक्ष्मी का वास होता है और सदस्यों का विकास बेहतर होता है। घर में रहने वाले बच्चों के ऊपर इसका सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। उत्तर पूर्व दिशा में लगा हुआ है घर के मुखिया के निर्णय लेने की क्षमता में बढ़ोतरी करती है। इसके साथ-साथ घर के मुखिया द्वारा लिए गए निर्णय स्टीक और सही परिणाम देने वाले होते हैं।

घर के आंगन में बेलपत्र का पेड़

घर में आंगन में बेल का पेड़ लगाने से घर में धन-धान्य की वृद्धि होती है। घर में रहने वाले लोगों के जीवन में खुशियां आती है। इस घर में रहने वाले लोग अपने जीवन में बहुत आगे बढ़ते हैं और खूब तरक्की करते हैं। शास्त्रों में जिक्र है कि जो व्यक्ति हर रोज सुबह और शाम को बेल के पेड़ का दर्शन करता है, उनके द्वारा अनजाने में किए गए पाप नष्ट हो जाते हैं।

यह भी पढ़ें -   शुक्रवार को क्या दान करना चाहिए? समृद्धि के लिए करें इस चीज का दान

बेल का पौधा जिस व्यक्ति द्वारा लगाया जाता है, उनके वंश में वृद्धि होती है। कोई भी उसका वंश नाश नहीं कर पाता है। जो भी व्यक्ति उसका वंश नाश करने के बारे में सोचता है या ऐसा कोई कार्य करता उसे जीवन में कष्ट भोगने पड़ते हैं। वहीं जो व्यक्ति बेल का पौधा काटता है या उसका अनादर करता है, उसका और उसके वंश का सर्वनाश हो जाता है।

यदि आपको बेल का पेड़ कहीं पर लगा हुआ दिखे तो उसके जड़ में पानी डालें। बेल के पौधे के जड़ में पानी डालने से भगवान शिव प्रसन्न होते हैं और ऐसा करने वाले व्यक्ति को अच्छे फल की प्राप्ति होती है। बेल के जड़ में पानी डालने से हमारे पितरों को इससे तृप्ति मिलती है। नियमित रूप से ऐसा करने से पितरों का आशीर्वाद व्यक्ति के ऊपर सदैव बना रहता है।

Join Whatsapp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

Follow us on Google News

देश और दुनिया की ताजा खबरों के लिए बने रहें हमारे साथ। लेटेस्ट न्यूज के लिए हन्ट आई न्यूज के होमपेज पर जाएं। आप हमें फेसबुक, पर फॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब कर सकते हैं।