सोना खोना या मिलना दोनों होता है अशुभ, जानें कैसे मिलते हैं परिणाम

सोना खोना या मिलना दोनों होता है अशुभ

ज्योतिष शास्त्र में सोना-चांदी से जुड़े कई प्रकार के शकुन-अपशकुन बताए गए हैं। ऐसा माना जाता है कि सोना का मिलना या सोना का खोना या चोरी होना सबकुछ अशुभ होता है। सोना को बृहस्पति का कारक माना जाता है। बृहस्पति जीवन में धन, सुख और दांपत्य जीवन का प्रतिनिधित्व करता है। इसलिए सोना खोना, चोरी होना या मिलना जीवन को कई प्रकार से प्रभावित करता है।

गिरा हुआ सोना मिलना

ज्योतिषशास्त्र के अनुसार, रास्ते में गिरा हुआ सोना मिलना शुभ नहीं होता है। ऐसे सोने को घर में नहीं लाना चाहिए। ऐसा करने से घर में पैसों की तंगी का सामना करना पड़ सकता है। यदि आपको गिरा हुआ सोना मिलता है तो उसे बेचकर मिले पैसों से दान पुण्य करना चाहिए। इससे ऐश्वर्य में वृद्धि होती है।

यह भी पढ़ें -   पैसे गिरने का मतलब है कि आने वाला समय आपके लिए शुभ हो सकता है

नाक की नथ गिरना – यदि किसी स्त्री की नाक की नथ कहीं गिर जाती है या चोरी हो जाती है या फिर वह खो जाती है तो यह बहुत ही अपशकुन होता है। ऐसा होने से स्त्री को बदनामी या किसी अपमान का सामना करना पड़ सकता है।

माथे का टीका खोना – ज्योतिषशास्त्र के मुताबिक, यदि किसी महिला के माथे का टीका या शीष फूल खो जाए या कहीं गिर जाए या फिर माथे का टीका चोरी हो जाए तो उसे कोई बुरी खबर मिल सकती है। ऐसा माना जाता है कि सिर का टीका मिलना भी अशुभ संकेत होता है।

यह भी पढ़ें -   हाथ से पैसे गिरना, जानिए क्या होता है इसका मतलब? शुभ और अशुभ संकेत

पायल का गुम होना – यदि किसी स्त्री के दाएं पैर की पायल खो जाए या गुम हो जाए तो उसके सामाजिक प्रतिष्ठा को हानि हो सकती है। बाएं पैर की पायल खोना यात्रा में किसी दुर्घटना की ओर इशारा करता है।

हाथ का कंगन मिलना – ऐसा कहा गया है कि यदि आपको कहीं पर गिरा हुआ कंगन मिलता है तो उसे कभी न उठाएं। इससे आपके मान-सम्मान में कमी आएगी। आपको स्वास्थ्य से जुड़ी कई प्रकार की परेशानियाँ भी हो सकती है।

यह भी पढ़ें – मंदिर में रखी भगवान की तस्वीर के अचानक गिरने से क्या होता है?

यह भी पढ़ें -   पूजा घर में छिपकली का होना शुभ या अशुभ, जानें छिपकली से जुड़े तथ्य

नोट – इस आलेख में दी गई जानकारियाँ मान्यताओं पर आधारित है। इसकी पुष्टि हम नहीं करते।


देश और दुनिया की ताजा खबरों के लिए बने रहें हमारे साथ। लेटेस्ट न्यूज के लिए हन्ट आई न्यूज के होमपेज पर जाएं। आप हमें फेसबुक, पर फॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब कर सकते हैं। खबरों का अपडेट लगातार पाने के लिए हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें।