वास्तु टिप्स- घर में मंदिर किस दिशा में होता है शुभ, जानें

घर में मंदिर दिशा

आजकल कि बिजी शेड्यूल में लोग मंदिर जाना भूल गए हैं। शहरों में आजकल घर में ही मंदिर बनाने का चलन बढ़ गया है। यहां तक कि लोग अपने बेडरूम में ही मंदिर बना लेते हैं। मंदिर के लिए अलग जगह की कमी के कारण घर के ही किसी कोने में मंदिर बनाने का चलन बढ़ गया है। लेकिन बता दें कि घर में मंदिर बनाना कब शुभ होता है और इसे किस दिशा में बनाना चाहिए? इसी विषय में जानेंगे कि घर में मंदिर किस दिशा में शुभ होता है?

वास्तु शास्त्र के अनुसार गलत जगह और गलत दिशा में मंदिर बनवाने से घर के सदस्यों पर इसका नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। घर में मंदिर कहां होना चाहिए इसका निर्धारण बहुत ही महत्वपूर्ण होता है। बता दें कि घर पर केंद्र बिंदु मंदिर निर्माण के लिए अति उत्तम होता है। घर का केंद्र होने के नाते यहां से सकारात्मक एनर्जी घर के सभी दिशाओं में बराबर रूप से फैलती है।

यह भी पढ़ें -   घर में इन पेड़ों को नहीं लगाना चाहिए

घर में मंदिर निर्माण के लिए सबसे शुभ जगह है घर का केंद्र बिंदु ही होता है लेकिन यदि आपके घर में जगह की कमी है तो आप मंदिर निर्माण घर के ईशान कोण में भी कर सकते हैं। ईशान कोण को भी मंदिर निर्माण के लिए शुभ माना जाता है। यह वह जगह होता है जहां पर उत्तर और पूर्व दिशा आपस में आकर मिलते हैं।

घर का यह हिस्सा सबसे पवित्र और शुभ माना जाता है। ईशान कोण मंदिर निर्माण के लिए अति उत्तम होता है और इस जगह पर खड़े होकर या बैठ कर पूजा करने से ईश्वर से संपर्क स्थापित करने में मदद मिलती है। घर की केंद्र बिंदु के बाद ईशान कोण ही सबसे शुभ जगह होता है।

यह भी पढ़ें -   चींटियों को आटा खिलाने से क्या होता है? इन चींटियों को माना जाता है शुभ

ईशान कोण में शुभता अधिक होती है। इतनी शुद्धता और शुभता घर के किसी अन्य कोण में नहीं होता है। घर के ईशान कोण में मंदिर बनवाना बहुत ही शुभ होता है। यहां एक बात और ध्यान देने योग्य है कि मंदिर निर्माण इस तरह से करना चाहिए कि पूजा करते वक्त व्यक्ति का मुख पूर्व की तरफ हो।

यदि आपके घर में ईशान कोण में मंदिर बनवाना संभव नहीं है तो आप पूर्व दिशा में भी मंदिर बनवा सकते हैं लेकिन इस बात का हमेशा ध्यान रखें कि मंदिर ज्यादातर उत्तर-पूर्व दिशा की तरफ ही हो। घर में मंदिर ईशान कोण के अलावा किसी अन्य कोण या जगह पर नहीं बनवाना चाहिए।

यह भी पढ़ें -   Vastu Tips: अपने घर में इस तरह रखें लाफिंग बुद्धा की मूर्ति, परिवार रहेगा खुशहाल

घर के ईशान कोण के अलावा कोई अन्य दिशा में मंदिर निर्माण के लिए शुभ नहीं होता है। यदि आप अन्य दिशाओं में मंदिर का निर्माण करते हैं तो आपको इसका शुभ फल प्राप्त नहीं होता है। अन्य जगहों पर मंदिर निर्माण करने से घर में किसी अनिष्ट की होने की संभावना होती है।

घर के बेडरूम में भी मंदिर का निर्माण नहीं करना चाहिए। कई लोग बेडरूम के कोने में मंदिर बना लेते हैं। लेकिन बता दे कि यदि आप शादीशुदा हैं तो आपको थोड़ी सावधानी रखनी चाहिए। बेहतर हो कि यदि आपको बेडरूम में मंदिर बनवाना ही हो तो सोते समय मंदिर के ऊपर पर्दा डाल दें। मंदिर बेडरूम में बनवाने से जीवन में कई परेशानियां उत्पन्न होने लगती हैं।


देश और दुनिया की ताजा खबरों के लिए बने रहें हमारे साथ। लेटेस्ट न्यूज के लिए हन्ट आई न्यूज के होमपेज पर जाएं। आप हमें फेसबुक, पर फॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब कर सकते हैं। खबरों का अपडेट लगातार पाने के लिए हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें।