Raat me Chidiya ka Bolna: रात में चिड़ियों का बोलना शुभ या अशुभ?

Raat me Chidiya ka Bolna

Raat me Chidiya ka Bolna: दिन ढलने के बाद पक्षियों की आवाज अक्सर बंद हो जाती है। लेकिन कई बार हमें रात में चिड़ियों का बोलना सुनाई पड़ता है। ऐसे में हमारे मन में यह सवाल आता है कि रात में चिड़ियों का बोलना कहीं किसी घटना की ओर इशारा तो नहीं करता है। आइए जानते हैं, रात में चिड़ियों का बोलना शुभ होता है या अशुभ?

Join Whatsapp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

पक्षियों और मनुष्यों का संबंध प्राचीन काल से ही रहे हैं। पौराणिक समय में और हमारे धर्म ग्रंथों में मनुष्य और पक्षियों के विषय में कई प्रकार की जानकारियां दी गई है। भगवान राम की मदद भी जटायु नाम के एक पक्षी ने की थी। इसलिए रात में चिड़ियों का बोलना शुभ होता है या अशुभ, आज इस बारे में जानेंगे।

जो लोग अलौकिक शक्तियों और उनके होने पर भरोसा करते हैं, उनके लिए यह बात बहुत ही महत्वपूर्ण होता है। कुछ लोग किसी पक्षी को रात में देखने पर उनके लिए वह भाग्यशाली मानते हैं तो कुछ लोग दुर्भाग्यशाली मानते हैं। यह भी पढ़ें- शुक्रवार को संतोषी माँ की पूजा कैसे करें, जानिए व्रत के लाभ

यह भी पढ़ें -   जानिए, बुधवार को किस दिशा में यात्रा करना होता है शुभ

रात में पक्षियों का बोलना अच्छा या बुरा?

रात में पक्षियों का बोलना (Raat me Chidiya ka Bolna) अच्छा माना जाता है। कुछ लोग मानते हैं कि यह पक्षी उनके मृत पूर्वजों की आत्मा होती है जो भविष्य में होने वाली घटनाओं के बारे में सचेत करती है। अगर आपको रात को या दिन ढल जाने के बाद पक्षियों की आवाज आती है तो हो सकता है कि कोई भटकती हुई आत्मा आपसे कुछ कहना चाहती है या आपको कुछ दिखाना चाहती है। हालांकि यह इस बात पर निर्भर करता है कि वह कौन सा पक्षी है और रात में किस समय पर वह पक्षी बोल रही है।

पक्षियों के रूप में फरिश्ते आपको कोई संदेश देने आते हैं या फिर किसी घटना से बचाव करने के लिए आपको संकेत करते हैं। पक्षियों के रूप में कोई मृत आत्मा आपके साथ संपर्क करने की कोशिश करती है। कई बार पक्षी कुछ ऐसे होते हैं जिन्हें आपने कभी पहले नहीं देखा था।

यह भी पढ़ें -   Nazar Dosh Kaise Utaren: काली नजर उतारने के उपाय, बुरी नजर से भी होती है खतरनाक

शायद इन पक्षियों के सहारे ब्रह्मांड की शक्तियां आपसे कुछ कहना चाहती है। आप कार्य के लिए इस जीवन में आए हैं, यदि आप उस कार्य से भटक जाते हैं तो पक्षियों के रूप में अच्छी आत्माएं आपको संकेत देते हैं और इस संबंध में आपका मार्गदर्शन करने की भी कोशिश करती हैं।

अलग-अलग पक्षियों के लिए यह अलग-अलग बात होती है। उदाहरण के लिए सफेद कबूतर को शांति का प्रतीक माना जाता है। कबूतर का वाहन, आसन या सैया पर बैठना तथा घर में प्रवेश करना मनुष्य के लिए शुभ माना गया है। सफेद कबूतर का फल 1 वर्ष में दिखता है।

रात में मुर्गे की बांग शुभ

यह भी पढ़ें -   Vastu Tips: आसान वास्तु टिप्स जिसे अपनाने से आपकी जिंदगी बदल जाएगी

रात्रि में मुर्गे की बांग को छोड़कर अन्य सभी प्रकार के पक्षियों की आवाज अशुभ माना जाता है। सारस पक्षी का जोड़ा यदि एक साथ शोर करे तो इसको शुभ माना गया है।

कुछ मान्यताओं के अनुसार, यदि आपके घर में चमगादर आते हैं तो यह आपके घर के लिए अशुभ माना जाता है। लेकिन यदि यही चमगादर आपके घर में रुक कर अपना घर बना लेते हैं तो यह एक शुभ संकेत माना जाता है।

कई बार ऐसा होता है कि हमारे घरों में पक्षी अपना बीट कर देते हैं। ऐसा होने के बाद लोग अक्सर झाला जाते हैं लेकिन बता दें कि यह बहुत ही शुभ माना जाता है। यदि किसी व्यक्ति के मस्तक या कंधे पर कौवा बैठ जाता है तो यह अच्छा नहीं माना जाता है। यह संकेत होता है कि उस मनुष्य को धनहानि होने वाली है या फिर उसकी निकट भविष्य में मृत्यु होने वाली है।

Join Whatsapp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

Follow us on Google News

देश और दुनिया की ताजा खबरों के लिए बने रहें हमारे साथ। लेटेस्ट न्यूज के लिए हन्ट आई न्यूज के होमपेज पर जाएं। आप हमें फेसबुक, पर फॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब कर सकते हैं।