Shanivar Vrat Tips: शनिवार के व्रत में नमक खाना चाहिए या नहीं

शनिवार को नमक खाना चाहिए या नहीं

Shanivar Vrat Tips: शनिवार के व्रत में नमक खाना चाहिए या नहीं – ज्योतिष शास्त्र में ऐसा माना जाता है कि ग्रहों का प्रभाव हमारे जीवन पर कई प्रकार से पड़ता है। इसलिए ग्रहों के हिसाब से यदि हम लोग अपने दिनचर्या नहीं अपनाते हैं तो कई प्रकार के समस्याओं का सामना करना पड़ता है। सभी ग्रहों में शनि ग्रह का प्रभाव बहुत ही खतरनाक माना जाता है। इसलिए शनिवार के दिन खाने पीने की चीजों को लेकर खास ध्यान रखना चाहिए।

Join whatsapp group Join Now
Join Telegram group Join Now

कई लोग शनिवार का व्रत करते हैं और उनके मन में नमक को लेकर कई प्रकार के सवाल होते हैं। आइए जानते हैं कि शनिवार के व्रत में नमक खाना चाहिए या नहीं। शनिवार को नमक खाने से क्या प्रभाव पड़ता है। यदि किसी जातक के जीवन पर शनि का बुरा प्रभाव होता है तो ऐसे जातक का जीवन अशांत हो जाता है। उन्हें समय-समय पर कई प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

Follow us on Google News
यह भी पढ़ें -   अखिल भारतीय संत समिति की बैठक में जुटेंगे देश भर के संत, अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष भी मौजूद रहेंगे

शनि ग्रह के बुरे प्रभाव से बचने के लिए कुछ प्रयत्न अवश्य करना चाहिए। आइए जानते हैं कि शनिवार के व्रत में आलू खा सकते हैं या नहीं। इसके अलावा इस दिन चाय पी सकते हैं या नहीं। शनिवार के व्रत में नमक का सेवन कितना सही होता है?

Follow WhatsApp Channel Follow Now

शनिवार के व्रत में नमक खाना चाहिए या नहीं?

शनिवार के व्रत में नमक का सेवन नहीं करना चाहिए। यदि व्रत करने वाले लोग इस दिन फल का सेवन करते हैं तो उन्हें फल में भी नमक नहीं डालना चाहिए। यदि आप बिना नमक का कुछ भी नहीं खा सकते हैं तो आपको व्रत वाले दिन सेंधा नमक का सेवन करना चाहिए। सेंधा नमक का सेवन व्रत में शुभ माना जाता है लेकिन भूल कर भी सादा नमक का सेवन नहीं करना चाहिए।

यह भी पढ़ें -   गाय को बासी रोटी या जूठी रोटी खिलाने से क्या-क्या नुकसान होते हैं?

शनिवार व्रत के नियम

यदि आप शनिवार का व्रत कर रहे हैं तो कुछ खास नियमों का भी ध्यान रखना चाहिए।

  • शनिवार के दिन ब्रह्म मुहूर्त में उठकर स्नान करना चाहिए। साफ-सुथरे कपड़े पहन कर व्रत का आरंभ करना चाहिए।
  • इस दिन बैंगनी, काला या नीला रंग का वस्त्र धारण करना चाहिए। काला रंग शनिदेव के प्रिय रंग माने जाते हैं।
  • इसके बाद पीपल के पेड़ में जल अर्पित करना चाहिए। फिर शनि देवता की मूर्ति पर पुष्प, काला तिल, काले वस्त्र आदि अर्पित करना चाहिए।
  • फिर शनिदेव को धूप, दीप आदि करने के बाद तेल अर्पित करना चाहिए। इसके बाद पीपल के पेड़ के साथ परिक्रमा करते हुए सूत का धागा बांधना चाहिए।
  • इसके पश्चात शनिवार के दिन धन तथा लोहे की वस्तु का दान करना चाहिए। शनिवार के दिन लोहे से बनी हुई वस्तुएं दान करना शुभ माना जाता है।
  • शनिवार के दिन काली वस्तुओं का दान सर्वश्रेष्ठ दान माना जाता है इसलिए जहां तक संभव हो काली वस्तुओं का ही दान करें।
  • शनिवार के दिन यदि आप व्रत रखते हैं तो पूरे दिन अन्न का सेवन नहीं करना चाहिए। पूरे दिन फलाहार ही रहना चाहिए।
यह भी पढ़ें -   Pitru Paksha: पितृ पक्ष में इस तरह करें पितरों का तर्पण, जीवन होगा सुखमय
Join whatsapp group Join Now
Join Telegram group Join Now

Follow us on Google News

देश और दुनिया की ताजा खबरों के लिए बने रहें हमारे साथ। लेटेस्ट न्यूज के लिए हन्ट आई न्यूज के होमपेज पर जाएं। आप हमें फेसबुक, पर फॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब कर सकते हैं।


Follow WhatsApp Channel Follow Now