PM Wani Yojana – प्रधानमंत्री वाणी योजना का उद्देश्य और पंजीकरण प्रक्रिया

PM Wani Yojana

भारत सरकार ने प्रधानमंत्री वाणी योजना (PM Wani Yojana) के अंतर्गत दूरसंचार विभाग द्वारा सार्वजनिक वाई-फाई एक्सेस नेटवर्क इंटरफेस (Public Wi-Fi Access Network Interface) को स्थापित करने के लिए प्रस्ताव को मंजूरी दी है। सार्वजनिक वाई-फाई एक्सेस नेटवर्क इंटरफेस को ही प्रधानमंत्री वाणी योजना (PM Wani Yojana) के नाम से जाना जाता है।

Join Whatsapp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

इस योजना का प्रारंभ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किया गया। पीएम वाणी योजना के माध्यम से देश के नागरिकों को सार्वजनिक स्थानों पर फ्री वाई-फाई की सुविधा दी जाएगी। प्रधानमंत्री वाणी योजना को पीएम वाणी योजना (PM Wani Yojana) के नाम से भी जाना जाता है।

सरकार का कहना है कि पीएम वाणी योजना से देश में बड़े पैमाने पर डिजिटल क्रांति आएगी। साथ ही इससे व्यवसाय और रोजगार के अवसर भी बढ़ने की संभावना है। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने 9 दिसंबर 2020 को प्रधानमंत्री वाणी योजना (PM Wani Yojana) के बारे में विधिवत जानकारी दी थी।

पीएम वाणी योजना (PM Wani Yojana) के माध्यम से देश में कनेक्टिविटी और डिजिटल पहुंच में सुधार किया जाएगा। इसके लिए सार्वजनिक स्थानों पर बड़े पैमाने पर WiFi Hotspot लगाए जाएंगे। WiFi Hotspot को लगाने के लिए किसी भी प्रकार का लाइसेंस, पंजीकरण या आवेदन शुल्क इत्यादि नहीं देना होगा।

यह भी पढ़ें -   Yahoo full form in Hindi - याहू कभी इंटरनेट की दुनिया का बड़ा नाम था

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में पीएम वाणी योजना (PM Wani Yojana) के अंतर्गत 20 जगहों पर यह सेवा दी जाएगी। इसके लिए दिल्ली नगर निगम द्वारा एक डिवाइस को लगाने के लिए ₹4720 खर्च किया जाएगा। पीएम वाणी योजना के अंतर्गत दिल्ली के 272 वार्डों में 5000 राउटर लगाए जाएंगे।

पीएम वाणी योजना के लिए पूरे भारत में सार्वजनिक डाटा केंद्र खोले जाएंगे। यह पूरी तरह से लाइसेंस मुक्त होगा। फ्री वाई-फाई वाणी योजना (Free WiFi Wani Yojana) को केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा 9 दिसंबर 2020 को मंजूरी दी गई थी। इस योजना के माध्यम से छोटे दुकानदारों को भी फ्री वाई-फाई सेवा (Free Wife Service) प्राप्त होगी।

Highlights Of PM-WANI Yojana
  • योजना का नाम – पीएम वाणी योजना
  • स्वामित्व – भारत सरकार
  • लाभार्थी – भारत के नागरिक
  • उद्देश्य – सार्वजनिक स्थानों पर वाई फाई सुविधा प्रदान करना
यह भी पढ़ें -   भारत का वो गांव जो आज भी अंग्रेजों का गुलाम है
पीएम वाणी योजना पंजीकरण

इस योजना के लिए लाइसेंस लेने की आवश्यकता नहीं है। हालांकि पीडीओए और इंटरनेट सर्विस प्रदाता को दूरसंचार विभाग से पंजीकृत होना अनिवार्य है। पीडीओए और इंटरनेट सर्विस प्रदाता को पंजीकरण की प्रक्रिया आवेदन करने के 7 दिनों के अंदर कर लेना है।

प्रधानमंत्री वाणी योजना का उद्देश्य

पीएम वाणी योजना का मुख्य उद्देश्य सार्वजनिक स्थानों पर नागरिकों को फ्री वाई-फाई (Free WiFi) की सुविधा उपलब्ध कराना है। इस योजना के माध्यम से देश के सभी नागरिक इंटरनेट से जुड़ सकेंगे। सरकार के इस महत्वाकांक्षी योजना से लोगों को व्यापार करने में भी आसानी होगी। इससे लोगों की आय में वृद्धि होगी और उनकी जीवनशैली में सुधार होगा। पीएम वाणी योजना (PM Wani Yojana) का मुख्य उद्देश्य देश में डिजिटल इंडिया (Digital India) को बढ़ावा देना है। इस योजना के अंतर्गत सार्वजनिक डाटा कार्यालय भी स्थापित किए जाएंगे। सार्वजनिक डाटा कार्यालय के माध्यम से ही लोगों को मुफ्त इंटरनेट की सुविधा मिलेगी।

यह भी पढ़ें -   Prime Minister of India: भारत के प्रधानमंत्री कौन हैं?
PM-WANI Yojana के क्या लाभ होंगे?
  1. पीएम वाणी योजना के माध्यम से देशभर में फ्री वाई-फाई सुविधा नागरिकों के लिए उपलब्ध होगी।
  2. इस योजना के तहत इंटरनेट पूरी तरह से मुफ्त होगी।
  3. इस योजना को प्रधानमंत्री वाईफाई एक्सेस नेटवर्क इनिशिएटिव के नाम से भी जाना जाता है।
  4. पीएम वाणी योजना (PM Wani Yojana) से लोगों को नए अवसर मिलेंगे और उनकी आय में वृद्धि होगी। इससे देश के नागरिकों की जीवनशैली में सुधार होगा।
  5. योजना के अंतर्गत खुलने वाले सार्वजनिक डाटा सेंटर्स में लोगों को नौकरियाँ मिलेंगी।
  6. पीएम वाणी योजना के अंतर्गत लोगों को निर्वाध और बिना रोक-टोक के इंटरनेट कनेक्टिविटी मिलेगी।

पीएम वाणी योजना में आवेदन के लिए अभी आपको थोड़ा इंतजार करना होगा। अभी सरकार ने सिर्फ इसकी घोषणा की है। जल्द ही फ्री वाई-फाई वाणी योजना (Free Wife Wani Yojana) के अंतर्गत आवेदन की घोषणा की जाएगी।

Join Whatsapp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

Follow us on Google News

देश और दुनिया की ताजा खबरों के लिए बने रहें हमारे साथ। लेटेस्ट न्यूज के लिए हन्ट आई न्यूज के होमपेज पर जाएं। आप हमें फेसबुक, पर फॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब कर सकते हैं।