छत्तीसगढ़ के सुकमा में नक्सली हमला, 17 जवान शहीद, 14 घायल

नक्सली हमला

रायपुर। एक तरफ जहां देश कोरोना वायरस से लड़ने के लिए तैयार हो रहा है, वहीं देश के लिए एक दुखद खबर भी है। छत्तीसगढ़ के सुकमा में हुए नक्सली हमले में 17 जवान शहीद हो गए हैं। हमले में 14 घायल हैं। बता दें कि शनिवार को यह हमला किया गया। शहीद होने वाले जवानों में डीआरजी और एसटीएफ के जवान शामिल हैं।

Join Whatsapp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

नक्सली हमले में 14 घायल जवानों को रायपुर रेफर किया गया है। बताया जा रहा है कि शहीद होने वाले जवानों में 12 जवान डीआरजी के हैं। हमले के बाद नक्सलियों ने जवानों से हथियार भी लूट लिए हैं। जिन हथियारों की लूट की गई है उनमें K-47, इंसास, LMG और UBGL जैसे हथियार शामिल हैं।

यह भी पढ़ें -   बिहार: एनडीए से अलग हो सकते हैं उपेंद्र कुशवाहा!

दरअसल पुलिस और नक्सलियों के बीच शनिवार को खूनी संघर्ष की सूचना मिली। घटना शनिवार दोपहर 2:30 बजे की है जब सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई। संघर्ष में सबसे ज्यादा नुकसान जिस बल को हुआ वो स्थानीय युवाओं का सुरक्षा बल डीआरजी है। डीआरजी का नक्सलियों के खिलाफ अभियान में महत्वपूर्ण योगदान रहा है।

गुप्त सूचना पर सुरक्षा बलों ने कोराजगुड़ा के चिंतागुफा में सशस्त्र बल और पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई शुरु की। संयुक्त टीम को एल्मागुंडा के नजदीक नक्सलियों के छिपे होने की सूचना मिली थी। खुफिया सूचना मिलने के बाद संयुक्त बल ने चिंतागुफा, बुर्कापाल और टिमेलवाडा कैंप से नक्सलियों के खिलाफ कार्रवाई शुरू की।

यह भी पढ़ें -   CAA: देशभर में विरोध, यूपी में 879 की गिरफ्तारी, योगी सरकार की कार्रवाई शुरू

खबरों के मुताबिक, एलमागुंडा के नजदीक सुरक्षा बल जैसे ही पहुंची, नक्सलियों ने संयुक्त बल पर हमला बोल दिया। घटना स्थल एलमागुंडा छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से 450 किलोमीटर दूर है।

संयुक्त टीम के अधिकारी ने कहा, ग्राउंड इनपुट के आधार पर ऐसी संभावना जताई जा रही है कि कम से कम 5 नक्सली मारे गए हैं और इतनी ही संख्या में घायल भी हैं। उन्होंने कहा कि सशस्त्र बल ने भी नक्सलियों का मुंहतोड़ जवाब दिया और उन्हें पीछे हटने पर मजबूर कर दिया।

Join Whatsapp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

Follow us on Google News

देश और दुनिया की ताजा खबरों के लिए बने रहें हमारे साथ। लेटेस्ट न्यूज के लिए हन्ट आई न्यूज के होमपेज पर जाएं। आप हमें फेसबुक, पर फॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब कर सकते हैं।