भारतीय तेल कंपनियों ने की तेल आयात में कटौती तो ईरान ने दिया यह जवाब

0
()

नई दिल्ली। भारतीय कंपनियों द्वारा ईरान में कच्चे तेल के आयात को घटाने पर ईरान ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। ईरान ने आयात में कटौती करने की धमकी पर जवाब देते हुए कहा कि हमारे पास और भी खरीददार हैं। एक शीर्ष अधिकारी का कहना है कि इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन, मेंगलुरु रिफाइनरी एंड पेट्रोकेमिकल लिमिटेड ईरानी कच्चे तेल के सबसे बड़े खरीददार हैं।

कंपनियां अपने वित्त वर्ष 2017-18 में कच्चे तेल के आयात को घटाकर पिछले वित्त वर्ष के 50 लाख टन से 40 लाख टन करने वाली हैं। दूसरी ओर भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन और हिन्दुसान पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड भी अपने आयात में पांच लाख टन की कटौती करेंगे। ये कंपनियां पहले 20 लाख टन कच्चे तेल का आयात करती थीं।

यह भी पढ़ें -   जेट एयरवेज में हिस्सा खरीदने को लेकर टाटा का नया बयान

इस फैसले पर प्रतिक्रिया देते हुए ईरान के पेट्रोलियम मंत्री बिजन जांगनेह ने कहा कि हम धमकियों के बीच सौदा नहीं कर सकते। ईरान के तेल के और भी खरीददार हैं। हमारी निर्यात क्षमता मांग को पूरा नहीं कर पाती है। हालांकि इसपर भारतीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कोई टिपण्णी नहीं की है।

We are sorry that this post was not useful for you!

Let us improve this post!

Tell us how we can improve this post?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *