कोरोना वायरस के 8 मामलों की अमेरिका में पुष्टि, हांगकांग जाने वाली सभी फ्लाइट्स रद्द

कोरोना वायरस

नई दिल्ली। कोरोना वायरस का कहर पूरे विश्व में देखने को मिल रहा है। अबतक कोरोना वायरस के कई मामले सामने आ चुके हैं। हालांकि चीन के बाहर सिर्फ एक व्यक्ति की मौत की पुष्टि कोरोना वायरस की वजह से हुई है। चीन का वुहान शहर कोरोना वायरस की सबसे ज्यादा चपेट में है।

चीन में कोराना वायरस से अबतक 490 लोगों की मौत हो चुकी है। दुनिया के अन्य देश इस वायरस से बचने के लिए उपाय ढूंढ रहे हैं। दूसरे देश इससे बचने के लिए हर संभव कोशिशें कर रहे हैं। अमेरिका ने इसी तर्ज पर हांगकांग जाने वाली अपनी सभी फ्लाइट्स अगले आदेश तक सस्पेंड कर दी हैं। हांगकांग में इसके 18 मामले सामने आए हैं। वहीं, अमेरिका में भी कोरोना वायरस के 8 मामलों की पुष्टि हो चुकी है।

जानकारी के अनुसार कोरोना से ग्रसित चीन ने अमेरिका पर मदद नहीं करने का आरोप भी लगाया है। हालांकि, अमेरिका ने इन आरोपों से साफ इनकार किया। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, हम चीन की सरकार का सहयोग कर रहे हैं। हम कोरोना से निपटने के लिए साथ मिल कर काम कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें -   भारत में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या 8300 के पार, 273 की मौत

खबर के मुताबिक ट्रंप ने स्थानीय समयानुसार मंगलवार को संयुक्त राज्य कांग्रेस के संयुक्त सत्र में अपने वार्षिक राज्य संघ को संबोधन में ये बातें कही। उन्होंने कहा, चीन और राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ हमारे संबंध बेहद अच्छे हैं। हम मौजूदा हालत में चीन की हर संभव मदद कर रहे हैं।

बीते दिनों चीन ने अमेरिका पर कोरोना वायरस को लेकर दहशत पैदा करने का आरोप लगाया था। चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने कहा था कि अमेरिका ने ‘कोई ठोस सहायता मुहैया नहीं कराई है। अमेरिका इसे लेकर केवल ‘दहशत’ पैदा कर रहा है। बता दें कि कोरोना का मामला सामने आने के बाद चीन से आने वाले यात्रियों की सघन जांच की जा रही है। भारत में भी एक-दो मामले कोरोना वायरस के संदिग्ध होने का मामला सामने आया है।

You May Like This!😊