लॉकडाउन की मियाद दो हफ्ते बढ़ी, 20 अप्रैल से कुछ इलाकों में सशर्त छूट

लॉकडाउन

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज (14 अप्रैल) सुबह 10 बजे देशवासियों को संबोधित करते हुए पूर्ण लॉकडाउन की अवधि को 3 मई तक बढ़ा दिया है। अपने संबोधन में पीएम मोदी ने कहा कि देश के हालात को देखते हुए और सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से संवाद और लोगों की इच्छा के अनुरूप लॉकडाउन की अवधि को 3 मई तक बढ़ाया जाता है।

Join Whatsapp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

पीएम मोदी ने लोगों से ऐसे कठिन समय में सयम दिखाने की अपील है। उन्होंने कहा कि जो लोग अपना व्यवसाय चलाते हैं वे अपने यहां काम कर रहे लोगों को नौकरी से न निकालें। ऐसे समय में जो लोग सक्षम हैं वे गरीबों की मदद करें। पीएम मोदी ने कहा कि सरकार मजदूरों के साथ है। सरकार उनके लिए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत मदद करेगी।

हालांकि इसके ही पीएम मोदी ने 20 अप्रैल को देश के कई इलाकों में लॉकडाउन में ढील देने की भी बात कही। उन्होंने कहा कि 20 अप्रैल को देश के चुनिंदा क्षेत्रों में सशर्त छूट मिलेगी। लेकिन प्रधानमंत्री ने लोगों को समझाते हुए कहा कि वे इस लॉकडाउन का सख्ती से पालन करें और सरकार की गाइडलाइन के अनुसार काम करें।

यह भी पढ़ें -   कोविड-19: पीएम मोदी लाओ रिपब्लिक पीएम डॉ थोंगलोउन ने की फोन पर बातचीत

पीएम मोदी ने कहा कि 20 अप्रैल से जिन इलाकों में आंशिक छूट मिलेगी, वहां पर लोगों को इस छूट का सही से उपयोग करना है। यदि आपके इलाके में एक भी व्यक्ति में कोरोना का प्रसार होता है तो सरकार ये छूट तुरंत वापस ले लेगी।

पीएम मोदी के संबोधन की मुख्य 7 बातें-

हम धैर्य बनाकर रखेंगे, नियमों का पालन करेंगे तो कोरोना जैसी महामारी को भी परास्त कर पाएंगे। इसी विश्वास के साथ अंत में, मैं आज सात बातों में आपका साथ मांग रहा हूं।

  • पहली बात- अपने घर के बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखें, विशेषकर ऐसे व्यक्ति जिन्हें पुरानी बीमारी हो, उनकी हमें अधिक देखभाल करनी है, उन्हें कोरोना से बहुत बचाकर रखना है।
  • दूसरी बात- लॉकडाउन और सामाजिक दूरी की लक्ष्मण रेखा का पूरी तरह पालन करें, घर में बने फेसकवर या मास्क का अनिवार्य रूप से उपयोग करें।
  • तीसरी बात- अपनी इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए आयुष मंत्रालय द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करें, गर्म पानी और काढ़ा का निरंतर सेवन करें।
  • चौथी बात- कोरोना संक्रमण का फैलाव रोकने में मदद करने के लिए आरोग्य सेतु मोबाइल एप जरूर डाउनलोड करें। दूसरों को भी इस एप को डाउनलोड करने के लिए प्रेरित करें।
  • पांचवी बात- जितना हो सके गरीब परिवारों की देखरेख करें उनके भोजन की आवश्यकता पूरी करें।
  • छठी बात- आप अपने व्यवसाय अपने उद्योग में अपने साथ काम करे लोगों के प्रति संवेदना रखें और किसी को नौकरी से न निकालें।
  • सातवीं बात- देश के कोरोना योद्धाओं, हमारे डॉक्टर, नर्सों, सफाई कर्मियों और पुलिसकर्मियों का पूरा सम्मान करें।
    पूरी निष्ठा के साथ तीन मई तक लॉकडाउन के नियमों का पालन करें, जहां हैं वहां रहें, सुरक्षित रहें।
यह भी पढ़ें -   Corona Update Today: भारत में मरीजों की संख्या 2 लाख 50 हजार के पार, 7135 की मौत

पीएम मोदी ने इसके साथ ही देश के युवाओं को वैज्ञानिकों से आग्रह किया कि इस संकट की घड़ी में देश के युवा और वैज्ञानिक कोरोना वायरस की वैक्सीन बनाने के लिए आगे आएं। उन्होंने कहा कि भारत के पास भले ही सीमित संसाधन हो, लेकिन मेरा भारत युवा वैज्ञानिकों से विशेष आग्रह है कि विश्व कल्याण और मानव कल्याण के लिए आगे आएं और कोरोना की वैक्सीन बनाने का बीड़ा उठाएं।

Join Whatsapp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

Follow us on Google News

देश और दुनिया की ताजा खबरों के लिए बने रहें हमारे साथ। लेटेस्ट न्यूज के लिए हन्ट आई न्यूज के होमपेज पर जाएं। आप हमें फेसबुक, पर फॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब कर सकते हैं।