Symptoms of Corona Virus: कैसे करें कोरोना से बचाव, क्या हैं कोरोना के लक्षण?

Symptoms of Corona Virus

डेस्क। जानलेवा कोरोना वायरस चीन के वुहान शहर से अब दुनिया के कई देशों में फैल चुका है। भारत में भी कोरोना का मामला दिन-ब-दिन बढ़ता जा रहा है। अब सवाल यह है कि कैसे पहचाने की किसी व्यक्ति को कोरोना है या नहीं। क्या हैं कोरोना वायरस के लक्षण (Symptoms of corona virus) और कैसे करें इस जानलेवा कोरोना वायरस से बचाव?

Coronavirus एक संक्रामक बीमारी है। यह अपने शुरुआती दिनों में भारत में होने वाले आम फ्लू सर्दी-जुकाम से मिलता-जुलता है। लेकिन जैसे-जैसे कोरोना वायरस का हमला इन्सानी शरीर पर तेज होने लगता है, शरीर में कई तरह के परिवर्तन होने लगते हैं। कोरोना वायरस का पहला मामला चीन में दिसंबर 2019 में आया था। चीन के वुहान में कुछ लोगों को सर्दी-जुकाम और बुखार होने के बाद इस वायरस का पता चला था।

कोरोना वायरस का लक्षण (Symptoms of corona virus) स्वाइन फ्लू की तरह ही होते हैं। शुरुआत में लोगों हल्की सर्दी-जुकाम होती है। फिर बुखार आता है। धीरे-धीरे कोरोना पीड़ित इंसान खुद को कमजोर महसूस करने लगता है। सांस लेने में तकलीफ होती है। कई मामलों में वैज्ञानिकों और डॉक्टरों के अनुसार, फेफड़ों में पानी भरने लगता है और खून का सही से संचरण नहीं हो पाता है।

यह भी पढ़ें -   फ्रेंच ओपन रद्द, वर्ल्ड कप विनर मातउइदी और जकागनी कोरोनो से पीडि़त
कोरोना वायरस के लक्षण (Symptoms of corona virus)- 
  • सिरदर्द
  • खांसी
  • सांस लेने में परेशानी
  • मांसपेशियों में दर्द
  • बुखार और थकान
Symptoms of Corona Virus

संक्रमण होने के बाद पहले बुखार होता है। उसके बाद सूखी खांसी होती है। एक हफ्ते बाद सांस लेने में परेशानी होने लगती है। उसके बाद हालात ऐसे हो जाते हैं कि मरीज को अस्पताल में भर्ती करना पड़ता है।

कोरोना का वायरस इंसान के शरीर में पहुंचने के बाद सबसे पहले फेफड़ों को संक्रमित करता है। इस कारण पहले बुखार और फिर खांसी होती है और बाद में सांस लेने में तकलीफ होने लगती है। इस वायरस के लक्षण दिखने में कम से कम पांच दिन का समय लगता है। हालांकि कई वैज्ञानिकों का कहना है कि कुछ मामलों में लक्षण कई दिनों बाद भी दिखता है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक, कोरोना वायरस के शरीर में प्रवेश करने के बाद लक्षण दिखने में 14 दिनों का समय लग सकता है। वहीं कुछ शोधार्थी के मुताबिक, यह समय 24 दिनों का भी हो सकता है। इस बीमारी के शुरुआती लक्षण सर्दी और फ्लू जैसे ही होते हैं जिससे कोई भी व्यक्ति आसानी से इसकी चपेट में आ सकता है।

यह भी पढ़ें -   चीन में कोरोना पर जीत का जश्न, चीनी बाजार में फिर से बिकने लगे चमगादड़
कोरोना वायरस कैसे फैलता है ?

कोरोना वायरस जानवरों से मानव में फैलता है। बाद में मानव से मानव के बीच संपर्क होने पर फैलता है। जब कोई संक्रमित व्यक्ति खांसी होने के बाद छींकता है या फिर किसी स्वस्थ व्यक्ति के संपर्क में आता है तो इस वायरस के फैलने का खतरा होता है। इसके अलावा संक्रमित व्यक्ति के किसी चीज को छूने और फिर अपनी आंखों, नाक या मुंह को छूने से भी वायरस का संक्रमण हो सकता है।

कोरोना वायरस के लक्षण, बीमारी और उपचार, ऐसे पहचाने कोरोना के मरीज को

कोरोना वायरस के संक्रमण का इलाज-

फिलहाल कोई इलाज उपलब्ध नहीं है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा, ब्रिटेन के मुताबिक, यदि आपको कोरोना के संक्रमण होने का शक है तो-

  • पहला कदम- डॉक्टर, फार्मेसी या अस्पताल जाने से बचें
  • दूसरा कदम- नजदीकी इलाकों में मौजूद स्वास्थ्य कर्मियों से फोन पर या ऑनलाइन इसकी जानकारी लें
  • तीसरा कदम- खुद को अन्य लोगों से दूर रखें ( अभी तक सभी मामलों में ऐसा ही किया जा रहा है)
  • चौथा कदम- स्थानीय स्वास्थ्य टीम आपकी स्वास्थ्य रिपोर्ट के आधार पर जांच कर सकती है।
  • पांचवा कदम- जरूरत पड़ने पर डॉक्टर या नर्स (आपको क्या करना चाहिए) इसकी जानकारी देंगे।
यह भी पढ़ें -   कोरोना से राहत की उम्मीद: क्या मई से मरने लगेगा कोरोना वायरस?

कोरोना से संबंधित जानकारी के लिए Union Health Ministry Call Centre/Helpline पर संपर्क कर सकते हैं-  +91-11-23978046

कोरोना से बचाव कैसे करें
  • भीड़-भाड़ वाली जगह पर जाने से बचें (ज्यादा जरूरी हो तो ही जाएं)।
  • किसी भी व्यक्ति से 1.5 से 2 मीटर की दूरी बनाए रखें
  • किसी से हाथ न मिलाएं। दूर से ही नमस्कार करें 🙏
  • अपने हाथों को अच्छे से साफ करें और एलकोहलिक लिक्विड (हाथ धोने वाला) का इस्तेमाल करें।
  • मास्क का प्रयोग कर सकते हैं। यदि किसी को कोरोना वायरस के लक्षण दिखे तो तुरंत ही डॉक्टर से संपर्क करें।
  • कोरोना वायरस शरीर की प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होने पर ज्यादा असर दिखाता है। इसलिए शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बनाए रखें।