कोरोना पर ट्रंप का बड़ा बयान, यह फ्लू नहीं बल्कि हम पर हमला हुआ है

कोरोना पर ट्रंप

वाशिंगटन। कोरोना वायरस के कारण अमेरिका में आए संकट से निपटने की कोशिश कर रहे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि देश पर हमला हुआ था। अमेरिका में कोराना वायरस से 47,000 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है और 8,52,000 से अधिक लोग संक्रमित हुए हैं।

कोरोना पर बोलते हुए ट्रंप ने बुधवार को व्हाइट हाउस में दैनिक संवाददाता सम्मलेन में कहा, ‘हम पर हमला हुआ। यह हमला था। यह कोई फ्लू नहीं था। कभी किसी ने ऐसा कुछ नहीं देखा, 1917 में ऐसा आखिरी बार हुआ था।’ ट्रंप हजारों अरब डॉलर के प्रोत्साहन पैकेजों के परिणामस्वरूप बढ़ते अमेरिकी राष्ट्रीय ऋण के बारे में किए गए एक सवाल का जवाब दे रहे थे।

डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि उनका प्रशासन वैश्विक महामारी से प्रत्यक्ष रूप से प्रभावित हुए लोगों और उद्योगों की मदद के लिए सामने आया है। उन्होंने कहा, ‘हमारे पास कोई विकल्प नहीं है। क्या है? मुझे हमेशा हर चीज की चिंता रहती है। हमें इस समस्या से पार पाना ही होगा। उन्होंने कहा, ‘विश्व के इतिहास में हमारी अर्थव्यवस्था सबसे बड़ी रही है। चीन से बेहतर, किसी भी अन्य देश से बेहतर।’

यह भी पढ़ें -   राष्ट्रपति ट्रंप 24 फरवरी को भारत दौरे पर आ रहे हैं, ट्रेड डील पर आशंका के बादल

ट्रंप ने कहा कि हमने पिछले तीन साल में इसे खड़ा किया और फिर अचानक एक दिन उन्होंने कहा कि तुम्हे इसे बंद करना होगा। अब, हम इसे दोबारा खोल रहे हैं और हम बेहद मजबूत होंगे। लेकिन दोबारा खोलने के लिए आपको उस पर कुछ धन लगाना होगा। उन्होंने कहा, ‘हमने अपनी एयरलाइन्स बचा ली। हमनें कई कम्पनियां बचा ली, जो बड़ी कम्पनियां हैं और दो महीने पहले उनका बेहतरीन साल चल रहा था और फिर अचानक से बाजार से बाहर हो गईं।’

यह भी पढ़ें -   अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप 24 और 25 फरवरी को भारत दौरे पर, तैयारी शुरू

ट्रंप ने कहा कि देश में नए मामलों में लगातार गिरावट आ रही है। उन्होंने कहा कि हाल ही में सबसे प्रभावित इलाके बनकर उभरे स्थान अब स्थिर हैं। वे सही दिशा में आगे बढ़ रहे हैं। बॉस्टन इलाके में मामलों में गिरावट आई है। शिकागों में मामले स्थिर बने हुए हैं। डेट्रायट में सबसे खराब समय निकल गया है।