आरबीआई गर्वनर उर्जित पटेल ने दिया इस्तीफा, रूपया गिरकर 72 के पार

नई दिल्ली। पिछले दिनों सरकार से तनातनी के बाद आरबीआई गर्वनर उर्जित पटेल ने इस्तीफा दे दिया है। आरबीआई गर्वनर उर्जित पटेल ने सोमवार को सरकार को अपना इस्तीफा सौंप दिया। हालांकि इस्तीफे की वजह व्यक्तिगत बताया गया है। बता दें कि पिछले दिनों आरबीआई की स्वायत्तता को लेकर सरकार के साथ मतभेद की खबरें भी आई थी। जिसके बाद अटकलें थीं कि वह पद छोड़ सकते हैं।

अपने इस्तीफे में आरबीआई गर्वनर उर्जित पटेल ने कहा कि ‘व्यक्तिगत कारणों की वजह से मैंने मौजूदा पद तत्काल प्रभाव से छोड़ने का फैसला किया है। वर्षों तक रिजर्व बैंक में विभिन्न जिम्मेदारियों के साथ मुझे रिजर्व बैंक में सेवा का मौका मिला, यह मेरे लिए सम्मान की बात है।’

भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह

उन्होंने इस्तीफे में आगे लिखा कि ‘आरबीआई स्टाफ, ऑफिसर्स और मैनेजमेंट के समर्थन और कड़ी मेहनत से बैंक ने हाल के वर्षों में कई उपलब्धियां हासिल की हैं। मैं इस मौके पर अपने साथियों और आरबीआई के डायरेक्टर्स के प्रति कृतज्ञता जाहिर करता हूं और उन्हें भविष्य की शुभकामनाएं देता हूं।’

वहीं उर्जित पटेल के इस्तीफे के बाद रुपया में भारी गिरावट देखी गई। डॉलर के मुकाबले रुपया कमजोर होकर 72.30 रुपए पर पहुंच गया। बता दें कि इससे पहले रुपया डॉलर के मुकाबले 71.32 पर कारोबार कर रही थी। इस्तीफे के बाद रुपया 98 पैसे टूट गया। अनुमान है कि अगर इसी तरह से रुपया में गिरावट जारी रही तो दिसंबर में रुपया 74 के स्तर को छू सकता है।

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने उर्जित पटेल के इस्तीफे को दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया है। मनमोहन सिंह ने कहा कि यह देश की अर्थव्यवस्था को लगा एक गंभीर झटका है। उन्होंने कहा कि अल्पकालिक राजनीतिक फायदों के लिए संस्थाओं को खत्म करना मूर्खता होगी। बता दें कि सोमवार को आरबीआई गर्वनर उर्जित पटेल ने अचानक ही इस्तीफा देकर चौंका दिया था।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें