Categories: ब्लॉग

17 दिसंबर: जब क्रांतिकारी भगत सिंह ने अंग्रेज पुलिस अधिकारी को गोली मारी थी

डेस्क। हर साल का हर महीना कुछ न कुछ घटनाओं को अपने आप में समेटे हुए रहते हैं। प्रत्येक महीने का प्रत्येक दिन घटनाओं और तिथियों से युक्त होता है। लेकिन कुछ दिन ऐसे भी होते हैं जो इतिहास की उन घटनाओं को अपने में समेटे हुए रहते हैं जिनके बारे में जानकर उनके बारे में जानने को लेकर और उत्सुकता बढ़ती है। आइए जानते हैं 17 दिसंबर को इतिहास की नजर से।

साल के आखिरी महीने का सत्रहवां दिन इतिहास में दो बड़ी अंतरराष्ट्रीय घटनाओं के साथ दर्ज है। 17 दिसम्बर 2014 को अमेरिका और क्यूबा ने कई वर्षों के बाद दोबारा कूटनीतिक संबंधों को बहाल किये जाने की घोषणा की थी। वहीं, 1928 में क्रांतिकारी भगत सिंह और राजगुरु ने अंग्रेज पुलिस अधिकारी को गोली मारी थी।

फिदेल कास्त्रो के तीन जनवरी 1961 में बतिस्ता शासन को हटाकर सत्ता में आने के बाद अमेरिका ने क्यूबा के साथ संबंध तोड़ लिये थे।लेकिन 17 दिसम्बर 2014 को उस समय अमेरिका के राष्ट्रपति रहे बराक ओबामा और क्यूबा के नेता राउल कास्त्रो ने कूटनीटिक संबंधों को बहाल किये जाने की घोषणा की थी।

आज की तारीख में इतिहास में दर्ज दूसरी बड़ी घटना 1903 की है जब 115 साल पहले 1903 में राइट बंधुओं ऑरविल और विलबर ने उत्तरी कैरोलिना में ‘राइट फ्लायर’ नामक विमान से सफल उड़ान भरी थी। यह विमान 120 फुट की ऊंचाई पर 12 सेकेंड तक उड़ान भर पाया था।

This website uses cookies.

Read More