POK पर बोले रक्षामंत्री, कहा- किसी भी संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता

राजनाथ सिंह

नई दिल्ली। मोदी सरकार का दूसरा कार्यकाल का एक साल पूरा हो चुका है। इस मौके पर सरकार द्वारा अपनी उपलब्धियां गिनाई गई। एक साल पूरा होने के मौके पर सरकार ने अनुच्छेद 370 और 35ए को हटाए जाने के कदम को ऐतिहासिक बताया। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह से जब पीओके के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि पीओके भारत का ही हिस्सा है।

जब रक्षामंत्री से पूछा गया कि क्या कभी पीओके भारत में शामिल होगा। इस सवाल के जवाब में रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि पीओके को लेकर किसी भी तरह की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता। राजनाथ सिंह मोदी सरकार के एक साल की उपलब्धियों पर बोल रहे थे। बता दें कि हाल ही में भारतीय मौसम विभाग ने पीओके के मौसम का हाल बताना शुरू किया है। भारत के इस कदम से पाकिस्तान में डर का माहौल है।

मोदी सरकार ने दूसरे कार्यकाल में जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा प्रदान करने वाले अनुच्छेद 370 और 35ए  को हटाया गया और जम्मू-कश्मीर को दो भागों में विभाजित कर दो प्रदेश बनाया गया। जम्मू-कश्मीर और लद्दाख दोनों प्रदेशों को केंद्रशासित प्रदेश बनाया गया। जम्मू-कश्मीर में दिल्ली की तरह ही विधायिका के साथ केंद्र शासित प्रदेश का दर्जा दिया गया। जबकि लद्दाख को बिना विधानमंडल के केंद्र शासित प्रदेश बनाया गया।

यह भी पढ़ें -   जानिए क्या कहा पीएम मोदी ने कश्मीर और कश्मीरी को लेकर

मोदी सरकार ने अपनी उपलब्धियों को गिनाते हुए धारा 370 और 35ए का निरस्तीकरण, करतारपुर साहिब कॉरिडोर को खोलना, देश में उग्रवाद पर सख्त कार्रवाई, आतंकवाद पर नो-टोलेरेंस की नीति, महिला सुरक्षा, भारत के उत्तर-पूर्वी राज्यों का विकास जैसे विषय को शामिल किया। सरकार ने अनुच्छेद 370 और 35ए का खात्मे को ऐतिहासिक बताया।

बता दें कि चुनाव में मोदी सरकार ने वादा किया था कि मोदी सरकार जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35ए को खत्म करेगी। जिसके बाद सरकार ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35ए को खत्म कर दिया। अब जम्मू-कश्मीर में केंद्र सरकार की कई योजनाएं बिना किसी रोकटोक के जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में लागू होती है।