कौवा को रोटी खिलाने से होते हैं कई लाभ, जानिए इन 10 फायदों को

कौवा को रोटी खिलाने के फायदे क्या होते हैं?

कौवा अमूमन हर जगह पाया जाता है। कई बार आपके घर के छत पर कौवा आता होगा। कई लोग कौवा को रोटी खिलाते हैं। लोग यह जानना चाहते हैं कि कौवा को रोटी खिलाने से क्या लाभ होता है? कौवा को रोटी क्यों खिलाई जाती है? कौवा को रोटी देने से क्या होता है? आइए जानते हैं विस्तार से –

कौवा को रोटी खिलाने के 10 जबरदस्त फायदे

1. कौवा को भोजन खिलाने से शत्रु का नाश होता है। शनिवार के दिन काले कौवे को रोटी खिलाने से पहले रोटी के ऊपर अपने शत्रु का नाम लिख दें। अब लगातार 21 दिनों तक इसी तरह से कौवे को रोटी खिलाएं। धीरे-धीरे शत्रु अपने आप ही शांत होने लगेगा।

2. कौवा को तेल लगाकर रोटी खिलाने से मन में कुछ बुरा होने की संभावना जैसे विचार खत्म हो जाते हैं। कौवे को रोटी खिलाने से व्यक्ति के साथ कोई अनिष्ट नहीं होता है या इसकी संभावना कम हो जाती है। हिंदू धर्म में गाय को रोटी खिलाने की भी परंपरा है। गाय को माता लक्ष्मी का रूप माना जाता है।

यह भी पढ़ें -   आज है देवोत्थान एकादशी, जानें इसका महत्व और पूजन की विधि

3. कई बार आपके परिवार के सदस्य मृत्यु के बाद नीच योनी के अंदर चले जाते हैं। इससे परिवार या व्यक्ति पर पितृ दोष लगता है। ऐसे में कौवों को श्राद्ध पक्ष में रोटी खिलाने से पूर्वजों को तृप्ति मिलती है और उनके कष्ट कम हो जाते हैं। इससे आपके पूर्वज जल्द ही नीच योनी से मुक्ति पा जाते हैं।

4. घर की छत पर सुबह के समय कौवा अगर कांव-कांव कर बोलता है तो यह एक शुभ संकेत होता है। ऐसा माना जाता है कि इससे आपका घर शुद्ध हो जाता है। इस दौरान कोवे को रोटी खिलाने से पुण्य फल की प्राप्ति होती है। हालांकि आजकल लोग छत पर से पशु-पक्षियों को भगा देते हैं। ऐसा नहीं करना चाहिए।

5. गरुड़ पुराण के मुताबिक, कौवा को यमराज का प्रतीक माना गया है। ऐसे में कौवा को रोटी या भोजन खिलाने से यमराज प्रसन्न होते हैं और जीवन की कई परेशानियाँ दूर हो जाती हैं। यदि कोई कौवा बार-बार किसी जीवित इंसान के आस-पास मंडराता है तो इसका मतलब है कि जल्द ही उस इंसान की मृत्यु होने वाली है।

यह भी पढ़ें -   Basant Panchami पर रखें इन बातों का ध्यान, माँ सरस्वती रहेंगी प्रसन्न

6. काला कौवा को भगवान शनि का प्रतीक माना जाता है। शनिवार के दिन काले कौवे को रोटी खिलाने से कुंडली के अंदर शनि दोष और शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव कम हो जाता है। काले कौवे को प्रत्येक शनिवार रोटी खिलाने से शनिदेव प्रसन्न होते हैं और व्यक्ति के जीवन को कष्टों से मुक्त करते हैं।

7. कौवा को रोटी खिलाने से बिजनस और घर में आर्थिक नुकसान होने से बचाता है। रोजाना कौवे को रोटी खिलाने से बिजनेस में होने वाला आर्थिक नुकसान जल्द ही बंद हो जाता है। वैसे भी हिंदू धर्म में जानवरों और पशु-पक्षियों को भोजन कराना पुण्य का काम माना गया है। इस संसार में प्रकृति ने सिर्फ मनुष्य को ही विवेकशील प्राणी बनाया है। इसलिए व्यक्ति को अन्य पशु-पक्षियों के प्रति सहानुभूति रखनी चाहिए।

8. कई बार कुंडली में कालसर्प दोष लग जाता है। कुंडली में राहु और केतू के बीच जब सभी ग्रह आ जाते हैं तो कुंडली में कालसर्प दोष लगता है। ऐसे में काले कौवे को रोटी खिलाने से कुंडली में कालसर्प दोष का असर कम या खत्म हो जाता है। कालसर्प दोष से प्रभावित व्यक्ति या तो राजा की जिंदगी जीता है या फिर वह दाने-दाने के लिए भटकता है।

यह भी पढ़ें -   कुत्ता को रोटी खिलाने के फायदे - जानिए क्या फल मिलता है?

9. कई बार पहले कौवा घर की छत पर बैठकर बोलता था। तब लोग कहते थे कि कौवा ऐसा तब करता है जब घर में कोई अतिथि आने वाला होता है। कौवा का घर की छत पर बोलना घर में अतिथि के आने की सूचना देता है। यदि छत पर कौवे दिखे तो उसे रोटी अवश्य खिलाना चाहिए। ऐसा करने से घर में सुख-शांति बनी रहती है।

10. कौवों को रोटी खिलाने से पति-पत्नी को संतान सुख की प्राप्ति होती है। रोजाना रोटी को पानी में भिंगोकर कौवों को खिलाने से दंपत्ति को संतान सुख की प्राप्ति होती है। रोजाना कौवा को रोटी खिलाने से शनिदेव प्रसन्न रहते हैं और अपनी कृपा बरसाते हैं। शनिदेव की कृपादृष्टि प्राप्त व्यक्ति अपने जीवन में सभी सुखों को भोगता है और उनके जीवन में शनिदेव कष्ट नहीं देते हैं।