Categories: दुनिया

राहुल गांधी के साहसी कहने पर भड़के नितिन गडकरी, दिया ऐसा जवाब

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बीजेपी नेता नितिन गडकरी की तारीफ करते हुए उन्हें भाजपा में साहसी नेता बताया। दरअसल राहुल गांधी ने ऐसा इसलिए कहा क्योंकि हाल के दिनों में नितिन गडकरी पार्टी लाइन से हटकर बोलते रहे हैं। जिसके बाद कांग्रेस अध्यक्ष ने गडकरी की तारीफ करते हुए कहा कि भाजपा में गडकरी एकलौते ऐसे नेता हैं जिनमें कुछ साहस है। राहुल गांधी ने कहा कि उन्हें राफेल, किसानों के मुद्दे और देश में बढ़ रही बेरोजगारी के मुद्दे पर भी बोलना चाहिए।

राहुल गांधी के इस बयान के बाद भाजपा के तरफ से जवाब आया। जवाब खुद भाजपा नेता नितिन गडकरी ने दिया। नितिन गडकरी ने कहा कि मुझे आपके सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं है। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कांग्रेस अध्यक्ष पर पलटवार करते हुए कहा कि मेरी हिम्मत के लिए मुझे आपके सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं है।

गडकरी ने कहा कि ‘राहुल गांधी जी, मेरी हिम्मत के लिए मुझे आप के सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं है लेकिन आश्चर्य इस बात का है कि एक राष्ट्रीय पार्टी के अध्यक्ष होने बाद भी हमारी सरकार पर हमला करने के लिए आपको मीडिया द्वारा टि्वस्ट की गई खबरों का सहारा लेना पड़ रहा है।’

बता दें  कि राहुल गांधी ने गडकरी के बयान से जुड़ी खबर पर ट्वीट करते हुए कहा था कि गडकरी जी, आपकी सराहना करता हूं। आप भाजपा में इकलौते हैं जिनमें कुछ साहस है। कृपया आप राफेल घोटाले और अनिल अंबानी, किसानों की पीड़ा और संस्थाओं को नष्ट किए जाने पर भी टिप्पणी करिए। जिसके बाद एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा कि ओह… गडकरी जी, मैं माफी चाहता हूं, मैं सबसे महत्वपूर्ण चीज को भूल गया था। नौकरी, नौकरी, नौकरी।

बता दें कि हाल ही में केंद्रीय मंत्री ने कहा था कि भाजपा कार्यकर्ताओं को पहले अपने घरेलु जिम्मेदारियों को पूरा करना चाहिए। उन्होंने कहा था कि जो ऐसा नहीं कर सकता वो देश को नहीं संभाल सकता। गडकरी ने ये अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से जुड़े छात्रों को संबोधित कर रहे थे। उस दौरान गडकरी ने कहा था कि मैं कई लोगों से मिला हूं जिन्होंने कहा है कि हम भाजपा, देश के लिए अपना जीवन समर्पित करना चाहते हैं। जब उन्होंने लोगों से बात की तो पता चला कि किसी ने अपनी दुकान बंद कर बीजेपी के लिए कार्य कर रहे थे।

जब उनसे पूछा गया कि घर में कौन-कौन हैं तो कार्यकर्ता ने जवाब दिया पत्नी और बच्चे हैं घर में। जिसके बाद केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि मैं कहता हूं कि पहले अपने घर की देखभाल करें, क्योंकि जो अपना घर नहीं संभाल सकता, वो देश नहीं संभाल सकता। हालांकि मामला बढ़ने के बाद एक निजी चैनल को दिए इंटरव्यू में गडकरी ने कहा कि उनके बयान को तोड़-मरोड़कर पेश किया जा रहा है।

Recent Posts

कोरोना संकट – 12 सालों का टूटा रिकॉर्ड, विदेशी मुद्रा भंडार में रिकॉर्ड गिरावट

मुंबई। कोरोना संकट के बीच देश के विदेशी मुद्रा भंडार पर भी जबरदस्त असर पड़ा…

March 30, 2020

कोरोना लॉकडाउन- शेयर बाजार में दो महीने में 40 फीसदी गिरावट

मुंबई। कोरोना वायरस (कोविड-19) के कहर से घरेलू शेयर बाजारों में पिछले दो महीने में…

March 30, 2020

कोरोना का कहर- बीसीसीआई ने पीएम रिलिफ फंड में दिए 51 करोड़

नई दिल्ली। भारत की सबसे अमीर खेल संस्था बीसीसीआई ने कोरोना वायरस से लड़ाई में…

March 30, 2020

बिहार में कोरोना का कहर- पटना में तीसरे स्टेज पर कोरोना, प्रशासन सतर्क

पटना। बिहार में कोरोना (Corona in Bihar) के मामले में तेजी से बढ़ रहे हैं।…

March 29, 2020

रामायण की सीता- क्या आपको पता है कि बीजेपी सांसद रह चुकी हैं?

नई दिल्ली। देशभर में देशभर में कोरोना को लेकर चल रहे लॉकडाउन के तनाव को थोड़ा…

March 29, 2020

This website uses cookies.