महाशिवरात्रिः 21 साल बाद आया है ऐसा संयोग, देशभर के मंदिरों में धूम

नई दिल्ली। देशभर में मंगलवार को महाशिवरात्रि का पर्व बड़े ही धूमधाम से मनाया जा रहा है। भक्तों का ताता शिव मंदिरों में सुबह से ही दिखने लगा है। शिव मंदिरों को फूल-मलाओं से सजाया गया है। इस दिन शिव भक्त भगवान शिव की पूजा बेलपत्र और कच्चे दूध से जलाभिषेक कर करते हैं।

शिवालयों में महाशिवरात्रि के मौके पर सुबह से ही जलाभिषेक के लिए लाइन लगी है। मध्यप्रदेश के उज्जैन महाकाल मंदिर में भोलेनाथ को विशेष रूप से सजाया गया है। वहीं देशभर के विभिन्न मंदिरों को भी आकर्षक ढंग से सजाया गया है। चारों दिशाओं में भगवान भोलेनाथ की जयकारा सुनाई दे रही है।

पढ़ें- सुंजवां आतंकी हमला, गोली से घायल महिला ने दिया बच्ची को जन्म, दोनों सुरक्षित

इस बार महाशिवरात्रि का काल दो दिनों का बन रहा है। महाशिवरात्रि का शुभारंभ 13 फरवरी को रात 10 बजकर 35 मिनट पर होगा जो 14 फरवरी की रात 12:46 तक रहेगा।

पंडितों के मुताबिक, इस बार महाशिवरात्रि का संयोग दो दिनों तक बन रहा है। ऐसा संयोग 21 साल बाद बन रहा है। महाशिवरात्रि में शिव के पूजन का विशेष महत्व है। शिव के पूजा में ओम नम: शिवाय मंत्र का जाप किया जाता है। हर मास में कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को शिवरात्रि मनाते हैं। वहीं फाल्गुन कृष्ण पक्ष चतुर्दशी को महाशिवरात्रि मनाते हैं।

पढ़ें- आ गया फिर से नोकिया धूम मचाने

मान्यता है कि सच्चे मन से याद करने पर शिव प्रसन्न होते हैं

मान्यता है कि यदि शिव को सच्चे मन से याद कर लिया जाए तो शिव प्रसन्न हो जाते हैं। पौराणिक मान्यताओं के अनुसार इसी दिन भगवान शंकर का माता पार्वती के साथ विवाह हुआ था। हिंदू मान्यताओं के अनुसार महाशिवरात्रि के दिन भगवान शिव से पूजा के माध्यम से क्षमा याचना की जाती है और आने वाले वर्ष में उन्नति एवं सदगुणों के विकास के लिए प्रार्थना की जाती है।

महाशिवरात्रि के मौके पर देशभर के अलग-अलग राज्यों में स्थित 12 ज्योतिर्लिंगों पर इस दिन हजारों की संख्या में भक्त जलाभिषेक करते हैं और अपनी मनोकामना पूर्ती के लिए भगवान शिव से प्राथना करते हैं।

यह भी पढ़ें:

आठ घंटे से ज्यादा नींद लेते हैं तो हो जाइए सावधान

ये है अमेरिका का एरिया 51, दफन हैं कई अनसुलझे राज !

ट्वीटर ने भी चला दिया राम रहीम गुरमित पर डंडा, अकाउंट सस्पेंड


मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्विटरगूगल प्लस पर फॉलो करें

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें