दिल्ली सरकार का दिल्ली वासियों को तोहफा, अब घर-घर पहुंचाया जाएगा राशन

दिल्ली सरकार

नई दिल्ली। दिल्ली सरकार की तरफ से कोरोना काल में एक बड़ा फैसला लिया गया है। इस फैसले के तहत अब दिल्ली के लोगों को राशन लेने के लिए राशन की दुकान पर नहीं जाना पड़ेगा। अब उनके घर-घर तक दिल्ली सरकार की तरफ से मदद पहुंचाई जाएगी। गौरतलब है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसकी जानकारी दी।

केजरीवाल सरकार ने कहा कि पूरे देश में हर सरकार केंद्र सरकार के साथ मिलकर अपने राज्य के गरीब लोगों को राशन बांटती है। उन्होंने आगे कहा कि जबसे देश में राशन देने का काम शुरू हुआ है। तबसे गरीब लोगों को राशन लेने में बहुत दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। कभी दुकान बंद मिलती है तो कभी मिलावट का सामान मिलता है। कभी दुकानदार पैसा ज्यादा ले लेते हैं। इसके चलते लोगों को बार-बार परेशान होना पड़ता है।

गेहूं के बदले अब दिया जाएगा आटा

लेकिन अब केजरीवाल सरकार की इस योजना के तहत लोगों को राशन लेने के लिए दुकान पर नहीं आना पड़ेगा बल्कि राशन लोगों के घर तक पहुंचाया जाएगा। इसके लिए सबसे पहले एफसीआई के गोदाम से गेहूं उठाया जाएगा। इसके बाद आटा पिसवाया जाएगा। इतना ही नहीं चावल और चीनी आदि की भी पैकिंग की जाएगी और लोगों को घर-घर तक पहुंचाया जाएगा।

इसके बाद भी लोगों को दिया जाएगा विकल्प

दिल्ली सरकार की तरफ से इस योजना के तहत लोगों को यह विकल्प दिया जाएगा कि जो दुकान पर जाकर राशन लेना चाहेगा, वह दुकान पर जाकर ले सकता है और अगर होम डिलीवरी चाहते हैं तो उसका विकल्प इस्तेमाल कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि इस योजना के अनुसार, अगले 6 से 7 महीने में होम डिलीवरी राशन शुरू हो जाएगा।

केजरीवाल ने यह भी बताया कि जिस दिन दिल्ली में राशन की होम डिलीवरी शुरू होगी उसी दिन से केंद्र सरकार की ‘वन नेशन वन राशन’ कार्ड की योजना भी लागू कर दी जाएगी। जिससे अगर कोई व्यक्ति बाहरी राज्य का है तो उसे भी दिल्ली में राशन लेने की अनुमति होगी।