भारतीय उच्चायोग के दो अधिकारी पाकिस्तान में लापता, दोनों देशों में तनाव

भारतीय उच्चायोग

नई दिल्ली। पाकिस्तान के इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायोग के दो जूनियर अधिकारी लापता हो गए हैं। भारत की तरफ से इस संबंध में पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय तक मामले को पहुंचा दिया है। बताया जा रहा है कि अधिकारी पिछले कुछ घंटों से लापता हैं। इस घटना से दोनों देशों के बीच फिर से तनाव बढ़ने की आशंका बढ़ गई है।

यह घटना तब सामने आई जब दिल्ली में दो पाकिस्तानी अधिकारियों को जासूसी की कोशिश करते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया और देश छोड़ने के लिए कह दिया गया। पाकिस्तानी उच्चायोग के दो अफसरों को भारतीय कानून प्रवर्तन अधिकारियों ने जासूसी करने के आरोप में पकड़ा था। बता दें कि भारत सरकार ने पकड़े गए पाकिस्तान अधिकारियों के गतिविधियों को राजनयिक मिशन के एक सदस्य के रूप में गैरकानूनी और देश के खिलाफ माना था।

हाल ही में भारत से दो पाकिस्तानी अधिकारियों को देश छोड़ने को कहने के बाद पाकिस्तान में भारतीय दूतावास के कार्यकारी उच्‍चायुक्‍त गौरव अहलूवालिया की कार का पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आइएसआइ के एक सदस्य ने मोटरसाइकिल से पीछा किया था। आइएसआइ के गौरव अहलूवालिया का उत्पीड़न करने के लिए उनके आवास के बाहर कारों का जमावड़ा लगवा दिया था।

यह भी पढ़ें -   सचिन तेंदुलकर ने इरफान खान के निधन पर जताया शोक, कहा- मेरे फेवरेट थे

पाकिस्तान में हुए ताजा घटनाक्रम के बाद पहले से तनाव में चल रहे दोनों देशों के रिश्ते में और तनाव आ गया है। मार्च में पाकिस्तान में भारतीय उच्चायोग के पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय को एक पत्र भेजा था और उनके अधिकारियों और कर्मचारियों के उत्पीड़न के खिलाफ आवाज उठाई थी। भारत ने पाकिस्तान से कहा था कि इसकी जांच करें और सुनिश्चित करें कि इस तरह की घटना दोबारा न हो।

यह भी पढ़ें -   भारत में कोरोना मरीजों की संख्या 6000 के करीब, 478 हुए स्वस्थ

बता दें कि भारत और चीन के बीच इस वक्त पूर्वी लद्दाख में तनाव चल रहा है। दोनों देशों के बीच लगातार मामले को सुलझाने के लिए बातचीत जारी है। इसी बीच पाकिस्तान की तरफ से घुसपैठ की कोशिशों में बढ़ोतरी हुई है। इसको लेकर दोनों देशों के बीच पहले से ही तनाव चल रहा है।