लॉकडाउन पर चल रही है तैयारी, क्या अब लॉकडाउन-4 की है बारी?

लॉकडाउन

नई दिल्ली। कोरोना के चलते देशभर में लॉकडाउन 3.0 जारी है। लॉकडाउन पर पीएम मोदी फिर से सोमवार को सभी राज्यों के मुख्यमंत्री से बातचीत करेंगे। इस बातचीत में पीएम मोदी लॉकडाउन के तीसरे चरण में उत्पन्न हुई हालातों पर राज्यों के मुख्यमंत्रियों से चर्चा करेंगे।

Join Whatsapp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

बता दें कि पीएम की मुख्यमंत्रियों के साथ यह मीटिंग सोमवार को दोपहर बाद 3 बजे सोशल डिस्टेंसिग का पूरा ध्यान रखते हुए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की जरिए की जाएगी। गौरतलब है कि लॉकडाउन 2.0 की अवधि 3 मई को समाप्त होने से पहले से पीएम ने मुख्यमंत्रियों से बात की थी जिसके बाद देश में 28 अप्रैल को कोरोना वायरस से निपटने के लिए लॉकडाउन 3.0 की अवधि को जारी कर दिया गया था।

यह भी पढ़ें -   बिहार का सिवान बना कोरोना का नया अड्डा, एक ही परिवार के 25 लोग संक्रमित

हालांकि लॉकडाउन 3.0 में कुछ इलाकों में ढील दी गई थी। हालांकि इस ढील के बाद देश में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या में तेजी से उछाल आया है। देश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 60 हजार के पार हो चुकी है। अब देखना यह होगा कि कोरोना से जारी जंग में क्या 17 मई के बाद देश में लॉकडाउन को बढ़ाया जाएगा? सोमवार को मुख्यमंत्रियों के साथ होने वाली प्रधानमंत्री मोदी की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में इस बात पर चर्चा किया जाएगा कि देश में बढ़ रहे कोरोना मरीजों की संख्या से कैसे लड़े।

यह भी पढ़ें -   सेना का मिली नई सौगात, पीएम मोदी ने किया Chief of Defence का ऐलान

गौरतलब है कि 1 मई को कोरोना संकट और लॉकडाउन को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केंद्रीय मंत्रियों के साथ भी अहम बैठक की थी। पीएम मोदी के साथ इस बैठक में गृहमंत्री अमित शाह, रेलमंत्री पीयूष गोयल, वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण, सीडीएस जनरल बिपिन रावत समेत कई अफसर मौजूद थे। इस बैठक में लॉकडाउन के दूसरे चरण की समीक्षा की गई थी।

दूसरे लॉकडाउन पर पीएम मोदी और राज्य के मुख्यमंत्रियों की बैठक के बाद जिस तरह से लॉकडाउन को बढ़ाने का फैसला किया गया उससे इस बात को बल मिल रहा है कि देश में बढ़ते कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या को ध्यान में रखते हुए सरकार कोई विशेष रणनीति बना सकती है।

यह भी पढ़ें -   भारत में कोविड मरीज हुए 3 लाख 66 हजार से ज्यादा, 12 हजार से ज्यादा की मौत
Join Whatsapp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

Follow us on Google News

देश और दुनिया की ताजा खबरों के लिए बने रहें हमारे साथ। लेटेस्ट न्यूज के लिए हन्ट आई न्यूज के होमपेज पर जाएं। आप हमें फेसबुक, पर फॉलो और यूट्यूब पर सब्सक्राइब कर सकते हैं।