हाथरस मामले में कांग्रेस नेता राहुल और प्रियंका पर FIR, प्रियंका ने कहा- गुंडा राज

हाथरस मामले

लखनऊ। हाथरस मामले में गुरुवार दिल्ली से नोएडा के रास्ते हाथरस जा रहे राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को यूपी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। दोनों नेता हाथरस में पीड़िता के परिवार वालों से मिलने जा रहे थे। यूपी के हाथरस जिले में पीड़ित लड़की की मौत के बाद पीड़ित परिवार से मिलने जा रहे राहुल गांधी और प्रियंका को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। हालांकि बाद में उन्हें छोड़ दिया गया।

नोएडा में गुरुवार के हुई इस घटना के बाद ग्रेटर नोएडा पुलिस ने शाम को राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और 200 अन्य कांग्रेस नेताओं पर FIR दर्ज की है। राहुल और प्रियंका के खिलाफ ग्रेटर नोएडा के ईकोटेक वन पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज कराई गई है।

हाथरस जिलाधिकारी पर FIR की मांग

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीड़ित परिवार को हाथरस के जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार द्वारा कथित तौर पर धमकाने का वीडियो सामने आने के बाद गुरुवार को कहा कि लक्षकार के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करके कार्रवाई की जाए।

इस वीडियो में हाथरस जिलाधिकारी प्रवीण कुमार पीड़िता के परिवार से यह कहते हुए नजर आ रहे हैं – आप अपनी विश्वसनीयता खत्म मत कीजिए… मीडिया वाले आधे चले गए हैं… कल सुबह आधे निकल जाएंगे… दो-चार बचेंगे कम शाम… हम आपके साथ खड़े हैं… अब आपकी इच्छा है कि आपको बयान बदलना है या नहीं। इस वीडियो को लेकर जिलाधिकारी की तरफ से अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।

राहुल गांधी ने ट्वीट कर जताया विरोध

हाथरस मामले में कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी एक वीडियो शेयर करते हुए ट्वीटर पर लिखा, ‘गरीब-दलित-आदिवासी की आवाज दबाओगे, सच कबतक छुपाओगे और कितनी बेटियां चुपके-से जलाओगे? अब देश का आवाज रोक ना पाओगे!’ वीडियो पीड़ित परिवार को धमकी देने से जुड़ा होने का दावा किया जा रहा है।

यूपी सरकार अत्याचारी है – प्रियंका गांधी

पीड़ित परिवार को जिलाधिकारी द्वारा कथित तौर पर धमकी देने का वीडियो सामने आने के बाद प्रियंका गांधी ने कहा कि “यूपी सरकार किसी को पीड़िता के गांव जाने से क्यों रोक रही है, उसका जवाब यहां है? पीड़िता के परिवार को हाथरस डीएम जाकर धमका रहे हैं। न मीडिया जा पायेगा, न हम लोग तो यूपी सरकार पीड़िता के परिवार को खुलकर धमका पाएगी। ये लोग अत्याचारी हैं।”