अरुणाचल में मूसलाधार बारिश, 5 की मौत, 9 लापता

Arunachal torrential rain, 5 killed, 9 missing
  • भारत के पूर्वोतर राज्य अरुणाचल प्रदेश में मूसलाधार बारिश से 5 लोगों की मौत हो गई है। अरुणाचल में बारिश के बाद हुए भूस्खलन में 9 लोगों के लापता होने की खबर है। बारिश के बाद हुए भूस्खलन में करीब 8 मकान दब गए हैं।

नई दिल्ली। भारत के पूर्वोतर राज्य अरुणाचल प्रदेश में मूसलाधार बारिश से 5 लोगों की मौत हो गई है। अरुणाचल में बारिश के बाद हुए भूस्खलन में 9 लोगों के लापता होने की खबर है। बारिश के बाद हुए भूस्खलन में करीब 8 मकान दब गए हैं। हादसे के बाद स्थानीय प्रशासन मौके पर पहुंचा। शवों को मलबे से बाहर निकाला जा रहा है।

यह भी पढ़ें -   मराठा आरक्षण आंदोलन : हिंसा के बाद मराठा क्रांति मोर्चा ने बंद वापस लिया

Read Also: सिर्फ 6000 रूपये के लिए कर दिया इस अभिनेत्री का मर्डर

अरुणाचल के मुख्यमंत्री फेमा खांडू ने हादसे पर दुख जताया है। पेमा खांडू ने घटनास्थल पर फौरन बचाव अभियान के आदेश दिये। राज्य सरकार मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख मुआवजे का ऐलान किया है। मुख्यमंत्री ने स्थानीय प्रशासन को आदेश दिया कि प्रभावित लोगों तक खाना और दवाइयां मुहैया कराया जाय। साथ ही उन्हें सुरक्षित जगह पर पहुंचाया जाय।

यह भी पढ़ें -   बुराड़ी कांड: आत्मा को खुश करने में गयी 11 लोगों की जान

Read Also: शास्त्री बने टीम इंडिया के नए कोच, जहीर बॉलिंग कोच

फिलहाल राहत बचाव के लिए एनडीआरएफ की 35 सदस्यीय टीम मौके पर पहुंच गई है। एनडीआरएफ के जवान स्वयंसेवकों और ग्रामीणों के साथ मिलकर बचाव अभियान चला रहे हैं। मुख्यमंत्री ने लोगों से जोखिम भरे स्थानों को छोड़ने और लोगों से सतर्क रहने की अपील की। जो घर मलबे में दब गए हैं। बताया जा रहा है कि उसमें कुल 14 लोग थे।

Read Also: खुशखबरी: अब IRCTC एप से होगी फ्लाइट टिकट की बुकिंग

यह भी पढ़ें -   महबूबा ने दी चेतावनी, धारा 370 हटा तो कश्मीर में तिरंगा लहराने वाला कोई नहीं होगा

बता दें कि अरुणाचल के पापुम जिले में पिछले चार दिनों से लगातार बारिश हो रही है। इससे राज्य के कई इलाकों में भूस्खलन की घटनाएं सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि पापुम जिले के लैपटैप गांव में जमीन खिसक गई। बता दें कि अरुणाचल प्रदेश भारत का पूर्वोतर राज्य है।

 

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्विटरगूगल प्लस पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *