किसान आंदोलन के बीच इन खिलाड़ियों ने किया सम्मान वापसी का ऐलान

किसान आंदोलन

नई दिल्ली। किसान आंदोलन के 12वें दिन दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सिंघु बॉर्डर पर किसानों से मुलाकात की। उन्होंने किसानों से मुलाकात के बाद कहा कि ‘किसानों का मुद्दा और संघर्ष जायज है। हम किसानों के संघर्ष में शुरू से ही साथ रहे हैं। केंद्र और दिल्ली पुलिस ने हमसे 9 स्टेडियमों को जेल बनाने की परमिशन मांगी थी। हम पर खूब दबाव बनाया गया, लेकिन हमने परमिशन नहीं दी।

उत्तर प्रदेश में अब धीरे-धीरे किसान आंदोलन जोर पकड़ने लगा है। यूपी में बसपा प्रमुख मायावती ने भी किसानों के आंदोलन को समर्थन देने की बात कही है। किसानों ने 8 दिसंबर को देशभर में बंद का ऐलान किया है। इस बंद के समर्थन में कांग्रेस सहित 20 राजनीतिक पार्टियों ने साथ देने का ऐलान किया है। इसके अलावा देश के 10 ट्रेड यूनियनों ने भी किसानों के इस बंद का समर्थन किया है।

यह भी पढ़ें -   एमएसएमई की परिभाषा सरकार ने बदली, अब टर्नओवर पर भी तय होगी परिभाषा
इन खिलाड़ियों ने अवॉर्ड लौटाने का ऐलान किया है

कृषि कानून के खिलाफ हो रहे प्रदर्शनों के बीच कई खिलाड़ियों ने इससे समर्थन में अपना-अपना अवॉर्ड लौटाने का ऐलान किया है। इन खिलाड़ियों में विजेंद्र सिंह, करतार सिंह जैसे खिलाड़ी भी शामिल हैं।

खिलाड़ी/कोचअवॉर्ड
विजेंद्र सिंह, बॉक्सिंगखेल रत्न
गुरबख्श सिंह संधू, बॉक्सिंगद्रोणाचार्य अवॉर्ड
करतार सिंह, कुश्तीपद्मश्री, अर्जुन अवॉर्ड
सज्जन सिंह चीमा, बास्केट बॉलअर्जुन अवॉर्ड
राजबीर कौर, हॉकीअर्जुन अवॉर्ड

किसान नेता बलदेव सिंह निहालगढ़ ने कहा कि मंगलवार को सुबह से शाम तक बंद रहेगा। इसके अलावा दोपहर 3 बजे तक चक्का जाम रहेगा। हालांकि इस दौरान एम्बुलेंस और शादियों वाली गाड़ियाँ को आने-जाने की परमिशन रहेगी।

यह भी पढ़ें -   भारत में कोरोना वायरस से एक दिन में अमेरिका से भी ज्यादा मौतें

लखनऊ में सपा नेता अखिलेश यादव के घर के बाहर पुलिस का पहरा लगा दिया गया है। बता दें कि अखिलेश यादव किसानों के समर्थन में कन्नौज के धरनास्थल पर जाने वाले हैं। नोएडा से सटे दिल्ली बॉर्डर पर एंट्री बंद कर दिया गया है। एनएच-24 पर गाजीपुर बॉर्डर बंद है।