इन ट्रेनों में रेलवे लगाएगी अतिरिक्त कोच, यात्रियों को होगा बड़ा फायदा

नई दिल्ली। भारत में सबसे ज्यादा लोग ट्रेन से सफर करते हैं। हर रोज लाखों यात्री भारतीय रेल से सफर करते हैं। हर रोज भारतीय रेल से एक आस्ट्रेलिया जितनी जनसंख्या सफर करती है। हर रोज भारतीय रेल में यात्रियों की बढ़ती संख्या रेलवे के लिए बड़ी चुनौती है।

लगातार हो रही यात्रियों की वृद्धि और ट्रेनों में यात्रियों की वेटिंग लिस्ट की लंबी कतार को ध्यान में रखते हुए भारतीय रेलवे कई ट्रेनों में यात्रियों की भीड़ को कम करने के लिए अतिरिक्त कोच लगाने की व्यवस्था करने जा रही है। इस विषय में पूर्वोत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी संजय यादव के मुताबिक, यात्रियों की सुविधा के लिए रेलवे प्रशासन तीन जोड़ी एक्सप्रेस ट्रेनों में अतिरिक्त कोच लगाने जा रही है।

रेलवे ने कुछ खास एक्सप्रेस ट्रनों में अतिरिक्त कोच लगाने जा रही है-

  1. 15003 कानपुर-अनवरगंज-गोरखपुर चौरी-चौरा एक्सप्रेस में 23 एवं 25 जून को कानपुर अनवरगंज से शयनयान श्रेणी का एक कोच लगाया जाएगा।
  2. 15003 कानपुर अनवरगंज-गोरखपुर चौरी चौरा एक्सप्रेस में 23 एवं 25 जून को कानपुर अनवरगंज से शयनयान श्रेणी का एक कोच लगाया जाएगा।
  3. 15120 मंडुवाडीह-रामेश्वरम एक्सप्रेस में 24 जून को मंडुवाडीह से शयनयान श्रेणी का एक कोच लगाया जाएगा।
  4. 15021 शालीमार-गोरखपुर एक्सप्रेस में 26 जून को शालीमार से शयनयान श्रेणी का एक कोच।
  5. 15022 गोरखपुर-शालीमार एक्सप्रेस में 25 जून को गोरखपुर से शयनयान श्रेणी का एक कोच।

इसके साथ-साथ भारतीय रेल की लेटलतीफी को दूर करने के लिए रेल मंत्री पीयूष गोयल के आदेश के बाद उसपर अमल शुरू हो गया है। रेलवे पुल, रेल ओवर ब्रिज (आरओबी), सब-वे का निर्माण, रेल पटरी बदलने व अन्य बड़े काम में तेजी लाया जा रहा है। इस संबंध में रेलवे बोर्ड ने सभी क्षेत्रीय बोर्ड को कार्य योजना बनाकर देने को कहा है जिससे कि इस पर अमल हो सके।

ट्रेनों की लेटलतीफी दूर करना रेल प्रशासन के सामने बड़ी चुनौती है। लंबी दूरी की कई ट्रेनें घंटों देरी से चल रही हैं। अक्सर कई ट्रेनें रद करनी पड़ रही हैं जिससे यात्रियों में नाराजगी भी बढ़ रही है। वहीं, रेल प्रशासन का कहना है कि संरक्षा व विकास कार्यों की वजह से इस तरह की परेशानी हो रही है। अगले कुछ महीनों में काम पूरा होने के बाद यात्रियों को सुविधा होगी।


मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्विटरगूगल प्लस पर फॉलो करें

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें