दिल्ली दंगो में पीएफआई का लिंक, अध्यक्ष समेत सचिव पुलिस हिरासत में

पीएफआई

नई दिल्ली। उत्तर- पूर्वी दिल्ली में बीते 23 से 25 फरवरी के दौरान सीएए के समर्थन और विरोध में एक भारी हिंसा भड़की थी, जिसमें 50 से ज्यादा की संख्या में लोगों की जानें गई और करीब 300 से ज्यादा लोग इस हिंसा में घायल हुए। जांच पड़ताल में  दिल्ली हिंसा में कथित कट्टरपंथी संगठन पीएफआई पर नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शनों के लिए धन मुहैया कराने के आरोप लगे हैं।

यह भी पढ़ें -   जामिया हिंसा पर अनुराग के बिगड़े बोल, कहा- मोदी सरकार पैदा कर रही आतंकवादी

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने गुरुवार सुबह पीएफआई के अध्यक्ष परवेज और सचिव इलियास को गिरफ्तार कर लिया है। स्पेशल सेल ने शाहीन बाग में चल रहे प्रदर्शन और पीएफआई के संबंधों की जांच करते हुए दोनों की गिरफ्तारी की है। जिसमें जानकारी के अनुसार सामने निकलकर आया है कि इलियास दिल्ली के शिव विहार इलाके का रहने वाला है। उसके उपर प्रदर्शनों के दौरान लोगों को फंड मुहैया कराने का आरोप है।

सूत्रों के अनुसार दानिश से की गई पूछताछ में सामने आया है कि प्रतिबंधित संगठन न सिर्फ सीएए के  विरोधी आंदोलन में शामिल रहा था, बल्कि हिंसा भड़काने में भी उसकी भूमिका रही। साथ ही पुलिस इस मामले में मिलें और बाकी लोगों के नाम और उनके खिलाफ सबूत जुटाने का काम भी कर रही है।

यह भी पढ़ें -   ममता से मिले चंद्रबाबू नायडू: बोले-राष्ट्र की रक्षा के लिए हमें एक होना होगा

बता दें कि पिछले दिनों में दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर को लेकर दो गुटों में झड़प हुई थी। जो बाद में हिंसा में तब्दील हो गई। दिल्ली हिंसा में घरों और दुकानों को भारी नुकसान हुआ था। दिल्ली हिंसा को लेकर दिल्ली पुलिस पर भी अनियमितता बरतने का आरोप लगा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *