नमक का दान कब करना चाहिए? जानिए नमक से लक्ष्मी कैसे आती है?

नमक का दान कब करना चाहिए

नमक हमारे घरों में हर रोज प्रयोग में लाया जाता है। कई लोगों के मन में सवाल होता है कि नमक का गिरना शुभ होता है या अशुभ। इसी तरह नमक से घर में लक्ष्मी कैसे आती है? नमक का दान कब करना चाहिए? ऐसे ही कई सवाल होते हैं लोगों के मन में जो लोग जानना चाहते हैं। आइए जानते हैं नमक से जुड़ी ऐसी ही कई बातें –

नमक जमीन पर गिरने से क्या होता है?

नमक का जमीन पर गिरना सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि बुल्गारिया, यूक्रेन और रोमानिया जैसे देशों में अपशकुन माना जाता है। जमीन पर नमक का गिरना दुर्भाग्य को दर्शाता है। भारतीय ज्योतिष में नमक का गिरना इस बात का संकेत होता है कि आपका शुक्र और चंद्रमा कमजोर हो चुका है।

यह भी पढ़ें -   नमक पानी पीने के 6 बेहतरीन फायदे, प्राकृतिक नमक है सेहत का खजाना
हाथ से नमक गिरने का क्या मतलब होता है?

हाथ से नमक गिरने को अशुभ माना जाता है। ऐसा कहा जाता है कि हाथ से नमक गिरने या गिराने से अगले जन्म में नमक को पलकों या जीभ से उठाना पड़ता है।

कौन से दिन नमक को खरीदना चाहिए?

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, नमक को शनिवार को खरीदना अशुभ माना जाता है। शनिवार को नमक खरीदने से घर पर कर्ज बढ़ता है। इसके अलावा शनिवार को तेल भी नहीं खरीदना चाहिए। इससे मनुष्य रोगी बन जाता है।

नमक का दान कब करना चाहिए?

हम जीवन को सुखमय बनाने के लिए कई चीजों का दान करते हैं। नमक का दान करने से भी जीवन में लाभ प्राप्त होता है। शुक्रवार के दिन नमक का दान करने से विशेष पुण्य की प्राप्ति होती है। नमक का रंग सफेद होता है और शुक्रवार को सफेद वस्तुओं का दान शुभ माना जाता है।

यह भी पढ़ें -   Sudarshan Chakra in Dream - सपने में सुदर्शन चक्र देखने का क्या मतलब होता है?
नमक दान करने से क्या फायदा होता है?

नमक का दान करने से पितरों को खुशी मिलती है। इससे वे आपके जीवन के कष्टों को दूर करते हैं। नमक का दान करने से पितर जल्दी प्रसन्न होते हैं। शुक्रवार के दिन नमक का दान पुण्यकारी माना गया है।

नमक से माता लक्ष्मी घर में कैसे आती है?

सप्ताह में गुरुवार को छोड़कर घर में पोंछा लगाते समय थोड़ा सा समुद्री नमक मिलाना चाहिए। इससे घर की नकारात्मक ऊर्जा नष्ट होती है। घर पवित्र हो जाता है और माता लक्ष्मी के घर में वास का मार्ग खुलता है। इससे घर में हमेशा बरकत बनी रहती है।

यह भी पढ़ें -   आज है देवोत्थान एकादशी, जानें इसका महत्व और पूजन की विधि
नमक की चोरी क्यों नहीं होती?

खुले में कोई अन्य वस्तु अगर रखा हो तो वह चोरी हो जाती है जबकि नमक का चोरी कोई नहीं करता। ऐसा कहा जाता है कि नमक की चोरी करने से इसका हक चुकाना पड़ता है। जिस घर से नमक चोरी होती है उस घर का हक चुकाना पड़ता है। इसलिए नमक की कभी चोरी नहीं होती।

रात में नमक क्यों नहीं देना चाहिए?

रात को नमक का दान अशुभ माना जाता है। नमक को कभी किसी से नहीं लेना चाहिए। इससे नमक का कर्ज आपके ऊपर चढ़ जाता है जिसे चुकाना पड़ता है। उसी तरह नमक किसी को हाथ में नहीं देना चाहिए। इससे वाद-विवाद होता है। इसलिए हमेशा नमक अगर देना हो तो किसी चम्मच से या बरतन में देना चाहिए।