देशभर में कोरोना वैक्सीन लोगों को फ्री में दी जाएगी – डॉ हर्षवर्धन

कोविड वैक्सीन

नई दिल्ली। देश में कोरोना महामारी के बीच कोविड-19 की वैक्सीन देने की प्रक्रिया के तहत आज से ड्राई रन की शुरूआत हो गई है। इस संबंध में डाइरेक्टर जनरल ऑफ काउंसिल ऑफ साइंटिफिक एंड इंडस्ट्रीएल रिसर्च (CSIR) डॉ. शेखर मंडे ने शनिवार को कहा कि वैक्सीन पूरी तरह सेफ है और इसका कोई भी प्रतिकूल प्रभाव नहीं है।

उन्होंने लोगों से आग्रह करते हुए कहा कि कोविड-19 वैक्सीन को उपयोग करने से लोगों को हिचकना नहीं चाहिए। उन्होंने कहा, “मैं सभी को आश्वस्त करना चाहता हूं कि वैक्सीन पूरी तरह से सेफ है। वैक्सीन ने सभी तरह के ट्रायल को सफलतापूर्वक पूरा किया है और इसका कोई भी साइड इफेक्ट नहीं है। लोगों को वैक्सीन लेने से हिचकना नहीं चाहिए।”

यह भी पढ़ें -   जामिया हिंसा पर अनुराग के बिगड़े बोल, कहा- मोदी सरकार पैदा कर रही आतंकवादी

देश के चार राज्यों में वैक्सीन के ड्राई रन पर उन्होंने कहा, ‘यदि डॉ हर्षवर्धन ने कहा है कि वैक्सीन का ड्राई रन चार राज्यों में सफल हुआ है, तो यह सरकार की तरफ से सबसे विश्वनीय आश्वासन है।’ यह एक बड़ी सफलता है और यह देश में वैक्सीन को जल्द-से-जल्द अप्रूवल की गारंटी देने में मददगार साबित होगा।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार, आज हो रहे ड्राई रन का मुख्य उद्येश्य है कि कोविड-19 वैक्सीन के फाइनल डोज देने से पहले हमारी प्लानिंग और कार्यान्वयन में क्या दिक्कत आ रही है। ड्राई रन में जो भी चैलेंज आएंगे वह वैक्सीन के फाइनल डोज देने वक्त सहायता करेंगे।

यह भी पढ़ें -   भारत में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या 8300 के पार, 273 की मौत
सबके लिए वैक्सीन होगी फ्री

बता दें कि इस वक्त देश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 1 करोड़ तीन लाख हो चुकी है। देश में 99 लाख से ज्यादा मरीज कोरोना वायरस के संक्रमण को अबतक मात दे चुके हैं। इस बीच 2 जनवरी को देश के चार राज्यों में कोरोना वैक्सीन का ट्राई रन शुरू हो चुका है।

कोरोना वायरस फ्री है या फिर इसके लिए कोई चार्ज लगेगा। इस सवाल के जवाब में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने कहा कि दिल्ली सहित पूरे देश के लोगों को कोरोना की दवा फ्री में दी जाएगी। पत्रकारों के बातचीत में उन्होंने कहा कि ‘सिर्फ दिल्ली में नहीं, बल्कि देशभर में हर भारतीय को कोरोना की वैक्सीन मुफ्त में लगाई जाएगी।’

यह भी पढ़ें -   India China Tension के बीच आर्मी चीफ और सेना के शीर्ष कमांडरों के बीच बैठक