अजवायन के फायदे और नुकसान – कैसे करें अजवायन का उपयोग?

अजवायन के फायदे और नुकसान

अजवायन को बीज के रूप में जाना जाता है। यह आकार में बहुत ही छोटे और रंग में काले-भूरे होते हैं। अजवायन खाने के कई फायदे और नुकसान भी होते हैं। अजवायन का उपयोग हमारे घरों में भोजन पकाने और कई तरह के घरेलु नुस्खों में भी इस्तेमाल किया जाता है। आइए जानते हैं अजवायन खाने के फायदे और नुकसान के बारे में –

अजवायन खाने के फायदे – Ajwain ke fayde

सर्दी – जुकाम में फायदेमंद – अजवायन खाने से सर्दी – जुकाम में फायदेमंद होता है। अजवायन में कई तरह की एंटीबैक्टीलियल प्रोपर्टी होती है, जो सर्दी होने की स्थिति में इसे दूर करने में मदद करती है। इसके साथ-साथ अजवायन हमारे शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाती है।

बुखार में अजवायन का फायदा – सर्दी में फायदेमंद होने के साथ-साथ यह बुखार को भी दूर रखने में मददगार होता है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट प्रोपर्टी जिस तरह से सर्दी-जुखाम को दूर रखती है, उसी तरह यह बुखार को भी दूर रखती है।

कान दर्द में दिलाए राहत – यदि आप कान दर्द से परेशान हैं तो अजवायन आपको राहत दिला सकता है। इसके लिए आपको 10 ग्राम अजवाइन को 50 ग्राम तेल में पका लेना है और फिर छान कर रख लेना है। इस तेल को रोजाना 2 बूंद अपने कान में डालना है। इससे कान दर्द की समस्या में राहत मिलेगी। हालांकि उपयोग से पहले आयुर्वेदिक चिकित्सक से सलाह जरूर लें।

यह भी पढ़ें -   विटामिन डी की कमी से कौन सा रोग होता है? Vitamin D की कमी कैसे पूरा करें?

डायबिटीज करें कंट्रोल – डायबिटीज से पीड़ित मरीजों के लिए भी अजवायन लाभदायक होता है। टाइप 2 डायबिटीज से पीड़ित लोगों को खाने में, पानी के साथ या किसी अन्य तरीकों से इसका इस्तेमाल करना चाहिए। यह डायबिटीज से पीड़ित रोगियों के ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने में मदद करती है।

गैस की समस्या में लाभदायक – यदि आपको गैस की समस्या या कब्ज की समस्या है तो अजवायन का सेवन लाभदायक हो सकता है। अजवाइन में एंटीस्पास्मोडिक और कार्मिनेटिव गुण होते हैं, जो गैस के प्रभाव को कम करते हैं। इसमें थाइमोल भी मौजूद होता है। यह गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल की बीमारी में राहत देता है। अजवायन का सेवन करने से पाचन तंत्र सही रहता है और इससे कब्ज की समस्या में भी राहत मिलती है।

यह भी पढ़ें -   रक्षाबंधन क्यों मनाई जाती है? जानिए राखी के त्योहार से जुड़ी बातें

गठिया और जोड़ों के दर्द में लाभदायक – उम्र बढ़ने के साथ गठिया या फिर जोड़ों में दर्द की समस्या होने लगती है। यह बढ़ती उम्र में एक आम समस्या है। गठिया और जोड़ों के दर्द में अजवायन काफी फायदेमंद होता है। अजवाइन में मौजूद एंटी-इंफ्लेमेटरी प्रोपर्टी अर्थराइटिस की समस्या से राहत दिलाती है।

वजन घटाने में सहायक – अजवायन का सेवन करने से शरीर का वजन घटाने में भी सहायता मिलती है। अजवाइन को भुनकर उसका सेवन करना चाहिए। एक शोध के मुताबिक अजवाइन भूख को कम करती है और इस वजह से हमारे शरीर का वजन भी कम होता है। इसमें फाइबर भी पाया जाता है जो शरीर के मेटाबॉलिज्म को बेहतर बनाता है।

अजवायन के नुकसान – Ajwain ke nuksaan

अजवायन के फायदे के साथ-साथ इसके नुकसान भी होते हैं। किसी भी चीज को जरूरत से ज्यादा इस्तेमाल करने से वह फायदे की जगह नुकसान पहुंचाती है। आइए जानते हैं इजवायन के नुकसान के बारे में –

यह भी पढ़ें -   कनखजूरा काटने का उपचार, कनखजूरा से छुटकारा पाने का आसान घरेलू उपाय

– अजवायन में बहुत ज्यादा मात्रा में फाइबर होता है। लेकिन कई बार जरूरत से ज्यादा अजवायन खाने से एठन, सूजन या फिर पेट के फूलने की समस्या हो जाती है।

– यदि आप अजवाइन का जरूरत से ज्यादा सेवन करते हैं तो कई बार एसिडिटी की समस्या कम होने की बजाए बढ़ जाती है।

अजवायन का इस्तेमाल कैसे करें?

अदि आपको भूख कम लगती है तो भूख बढ़ाने के लिए गुनगुने पानी में एक चम्मच अजवायन खाने से फायदा मिलता है।

गैस की समस्या होने पर भूने हुए अजवायन को नींबू और नमक के साथ चाटना चाहिए। इससे गैस की समस्या और पेट फूलने की समस्या दूर होती है।

अजवायन का पानी पीने से पाचन तंत्र से संबंधित समस्याओं में राहत मिलती है। प्लू या गले में खराश की समस्या होने पर एक चौथाई अजवायन, एक चुटकी नमक और एल लौंग को मुंह में रखकर चूसना चाहिए।