बिहार में बिजली गिरने से 12 लोगों की मौत, सीएम नीतीश ने किया मुआवजे का ऐलान

बिहार में बिजली गिरने से मौत

पटना। कोरोना संक्रमण के चलते देश में पहले ही हड़कंप मचा हुआ है। इसी बीच बिहार के सारण, जमुई और भोजपुर में बिजली गिरने से 12 लोगों की मौत हो गई है। लोगों की मौत पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शोक संवेदना व्यक्त किया है और मृतकों के आश्रितों को चार-चार लाख रूपये अनुग्रह अनुदान देने का ऐलान किया है।

जानकारी के अनुसार बिहार में बिजली गिरने से सारण में 9, जमुई में 2 और भोजपुर में 1 व्यक्ति की मौत हो गई। इस दुखद घटना को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा है कि इस आपदा की घड़ी में वे प्रभावित परिवारों के साथ हैं और मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख रूपये की अनुग्रह अनुदान देने के अलावा उन्होंने बिजली से झुलसे हुए लोगों के समुचित इलाज के भी निर्देश दिए हैं और उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की है।

बिहार सरकार ने संवेदना जताते हुए कहा कि इस बार हुए वज्रपात की तीव्रता बहुत अधिक थी, लेकिन लॉकडाउन की वजह से लोग घरों में थे। इस कारण ऐसी तीव्रता वाले वज्रपात से संभवतः क्षति कम हुई है। वहीं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लोगों से अपील की है कोरोनाकाल में सभी लोग खराब मौसम में भी पूरी सतर्कता बरतें।

यह भी पढ़ें -   निजामुद्दीन मरकज के लोग सीएए विरोधी और शाहीन बाग धरनों में होते थे शामिल

उन्होंने कहा कि खराब मौसम होने पर वज्रपात से बचाव के लिए आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा समय-समय पर जारी किये गये सुझावों का अनुपालन करें। इस संकट की घड़ी में बिहार के लोगों से अपील करते हुए सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि लोग धैर्य रखें, सचेत रहें, सतर्क रहें तभी स्वस्थ रहेंगे।

बता दें कि बिहार में कोरोना का संक्रमण तेजी के साथ बढ़ रहा है। बिहार का मुंगेर जिला कोरोना का हॉटस्पॉट बन चुका है। बिहार में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या 243 तक पहुंच चुकी है। कोरोना से बिहार में अबतक दो लोगों की मौत हुई है और 46 मरीज कोरोना वायरस से जंग जीत चुके हैं।