इंसानों के बाद अब जानवरों पर भी मंडरा रहा कोरोना का खतरा!

कोरोना वायरस का कहर

नई दिल्ली। आज  देश समेत दुनियाभर में कोरोना वायरस का कहर जारी है। भारत में कोरोना का खौफ इस कदर है कि लोग अपने सारे काम छोड़ घरों में कैद होने पर मजबूर हैं। इस वायरस के चलते भारतीय जनजीवन पूरी तरह से प्रभावित हो चुका है। हाल में आई एक रिपोर्ट ने लोगों की चिंताओं को और बढ़ा दिया है इस रिपोर्ट के मुताबिक अबतक विश्व में लगभग 2 लाख 43 हजार से ज्यादा लोगों की जानें जा चुकी है। वहीं अब लोगों के साथ जानवर भी इस बीमारी की चपेट में आ रहे हैं।

बता दें कि अमेरिका के न्‍यूयॉर्क राज्‍य में एक टाइगर को कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया था। टाइगर के संक्रमण में आने के बाद दावा किया जा रहा था कि इंसानों से जानवरों बीच संक्रमण फैलने का यह पहला मामला है। लेकिन विशेषज्ञों ने चेतावनी देते हुए कहा था कि अगर दुनिया के अन्य देशों में भी जानवरों में संक्रमण फैलता है तो स्थिति ज्यादा खराब हो सकती है।

बता दें कि पिछले दिनों भारत ने भी पूरे देश में स्थित चिड़ियाघरों को एडवाइजरी जारी करते हुए सतर्कता बरतने के निर्देश जारी किया था। विश्व पशु स्वास्थ्य संगठन ने भी अपनी रिपोर्ट में कहा है कि इस बात का कोई सबूत नहीं है कि संक्रमित जानवर अपने द्वारा संक्रमण को और ज्यादा जानवरों में फैला सकते हैं। हालांकि उन्होंने यह भी सुझाव दिया कि पालतू जानवरों के मालिक उन्हें जितना हो सके घरों के अंदर ही रखें।

यह भी पढ़ें -   औरंगाबाद में कोरोना पॉजिटिव केस मिलने के बाद 7 गांव को किया गया सील

भारत ने भी चिड़ियाघरों को जारी की थी चेतावनी

भारतीय केंद्रीय चिड़ियाघर प्राधिकरण ने देश के सभी चिड़ियाघरों को चेतावनी जारी करते हुए कहा था कि वे सतर्कता बरतें और देश के सभी चिडियांघरों में जानवरों के किसी भी असामान्य व्यवहार के लिए सीसीटीवी के माध्यम से जानवरों की सतत निगरानी करें। कोई भी जानवर असामान्य व्यवहार करता है तो तुरंत उसकी जाँच की जाए।

अमेरिका में टाइगर कोरोना के चपेट में 

यह भी पढ़ें -   इन पांच विधायकों के शपथ से 29 दिन बाद हुआ शिवराज सरकार के कैबिनेट का विस्तार

अमेरिका में कोरोना का कहर न केवल इंसानों तक सीमित रहा, इंसानों के बाद अमेरिका के न्‍यूयॉर्क ब्रोन्‍क्‍स जू में एक मादा टाइगर में कोरोना वायरस के संक्रमण की चपेट में आ गई थी। नादिया नाम के इस मलेशियाई टाइगर और तीन अन्‍य बाघों को सूखी खांसी आने के बाद उसकी कोरोना जांच की गई थी। इस जांच में नादिया को कोरोना पॉजिटिव पाया गया था। हालांकि अबतक लगभग 2 महीने बीत चुके हैं, लेकिन अभी तक किसी अन्य जानवर में कोरोना फैलने की सूचना नहीं है।