एम्स की आईएनआई-सीईटी पीजी प्रवेश परीक्षा स्थगित

सीईटी पीजी प्रवेश परीक्षा

भारत में कोरोना संक्रमण को देखते हुए अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) ने आईएनआई के स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों के लिए आठ मई को आयोजित आईएनआई-सीईटी पीजी 2021 प्रवेश परीक्षा आगामी जुलाई तक के लिए स्थगित कर दी है।

एम्स ने राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 के मौजूदा हालातों के मद्देनजर यह निर्णय लिया है। सरकारी आदेश के मुताबिक आईएनआई-सीईटी पीजी प्रवेश परीक्षा के लिए संशोधित तिथि बाद में घोषित की जायेगी।

बता दें कि भारत में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी के साथ बढ़ रही है। हाल के दिनों में रोजाना आने वाले केसों की संख्या 3 लाख से ऊपर जा चुकी है। भारत में कोरोना संक्रमण बढ़ने के साथ ही मौत का आंकड़ा भी लगातार बढ़ रहा है। वर्ल्डोमीटर के मुताबिक, शुक्रवार रात 12 बजे तक 24 घंटों में भारत में 345,147 नए कोरोना संक्रमित मिले। वहीं, इस दौरान रिकॉर्ड 2621 कोरोना मरीजों की मौत हो गई।

यह भी पढ़ें -   कोरोना वायरस संक्रमण से संक्रमित 10 जापानी नागरिक वापस लौटे, चीन में 65 नई मौतें

बता दें कि कोरोना महामारी से मरने वालों की कुल संख्या बढ़कर 1,89,549 हो गई है। अब तक कोरोना के कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,66,02,456 हो गई है। देश में अभी 25,43,914 मरीजों का अलग-अलग अस्पतालों में इलाज चल रहा है। इससे पहले गुरुवार रात तक कोरोना वायरस के 3.32 लाख नए केस मिले थे और इसी दौरान करीब 2250 से अधिक लोगों की मौत हो गई थी। 

लगातार गिर रहा है रिकवरी रेट

कोरोना संक्रमण के कारण जहां एक ओर कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ रही है वहीं महामारी से ठीक होने वाले लोगों की संख्या भी घट रही है। कोरोना संक्रमित लोगों के स्वस्थ होने की दर गिरकर 83.5 प्रतिशत रह गई है। कोरोना से राष्ट्रीय स्तर पर मृत्यु दर गिरकर 1.1 प्रतिशत हो गई है। 

यह भी पढ़ें -   चीन में कोरोना पर जीत का जश्न, चीनी बाजार में फिर से बिकने लगे चमगादड़

60 फीसदी संक्रमित केवल सात राज्यों से

भारत में सबसे ज्यादा संक्रमित मरीज केवल 7 राज्यों से हैं। महाराष्ट्र में सर्वाधिक 66,836 नए संक्रमित मिले। इसके बाद उत्तर प्रदेश में 28447, दिल्ली में 24331, कर्नाटक में 26962, केरल में 28447, राजस्थान में 15398 और छत्तीसगढ़ में 17397 नए कोरोना मरीज मिले। इन सात राज्यों का कुल संक्रमितों में 60.24 फीसदी का योगदान है।