काठमांडू में बड़ा विमान हादसा, रनवे पर उतरते वक्त विमान में लगी आग, 50 की मौत

नई दिल्ली। काठमांडू में एक बड़ा विमान हादसा हो गया है। सोमवार को नेपाल के त्रिभुवन अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर एक विमान उतरने के बाद हादसे का शिकार हो गया। बताया जा रहा है कि विमान उतरने के बाद रनवे से फिसलकर दुर्घटना का शिकार हो गया। दुर्घटना में 50 लोगों की मौत की खबर है। बोम्बार्डियर डैश 8 क्यू-400 विमान में 67 यात्री और चालक दल के चार सदस्य सवार थे। यह विमान बांग्लादेश की US-बांग्ला एयरलाइन का था। बताया जा रहा है कि विमान त्रिभुवन इंटरनैशनल एयरपोर्ट (TIA) के पूर्वी हिस्से में जाकर गिरा।

विमान में चालक दल के चार सदस्य समेत 71 लोग सवार थे, जिनमें से 33 नेपाली नागरिक थे। नेपाल के अखबार द हिमालयन टाइम्स के मुताबिक अब तक 17 लोगों को बचाया जा चुका है, जबकि कम से कम 50 लोगों की मौत हो चुकी है। हादसे में घायल लोगों को अस्पताल पहुंचाया जा रहा है। हादसे के बाद एयरपोर्ट को पूरी तरह से बंद कर दिया गया है। एयरपोर्ट में राहत और बचाव कार्य जारी है। फिलहाल विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने के कारणों का पता नहीं चल पाया है।

यह भी पढ़ें -   भारत ने पाक को दी चेतावनी: दूसरे देशों के मामले में दखल न दे

टीआईए प्रवक्ता प्रेमनाथ ठाकुर ने बताया कि विमान उतरते समय रनवे पर लड़खड़ा गया और इसमें आग लग गई तथा यह हवाईअड्डे के पास एक फुटबाल मैदान में जाकर दुर्घटनाग्रस्त हो गया। हादसे में बीस से अधिक लोग घायल हो गए हैं। दुर्घटनाग्रस्त विमान बांग्लादेश की एयरलाइन यूएस-बांग्ला का था। हादसे के बाद काठमांडू के त्रिभुवन इंटरनेशनल एयरपोर्ट को जाने वाले सभी विमानों को लखनऊ और कोलकाता डायवर्ट कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें -   राहुल गांधी ने पीएम मोदी को दी सलाह, मोदी जी आपके पास वक्त बहुत कम है काम शुरू कीजिए

बता दें कि एयरलाइन यूएस-बांग्ला एक बांग्लादेशी निजी एयरलाइन है, जिसकी स्थापना 2013 में अमेरिका और बांग्लादेश के बीच ज्वाइंट वेंचर के तहत की गई थी। इस हादसे से एक दिन पहले संयुक्त अरब अमीरात से इस्तांबुल जा रहा तुर्की का एक निजी जेट विमान ईरान के पर्वतीय क्षेत्र में दुर्घटनाग्रस्त हो गया। विमान में सवार सभी 11 लोगों की मौत हो गई थी।

यह भी पढ़ें-

ग्लैमर की दुनिया की ये महिला कलाकार जिन्होंने खुदकुशी कर ली

यह भी पढ़ें -   Article 370 और 35A खत्म, जम्मू-कश्मीर और लद्दाख बना दो प्रदेश

क्या आपको पता है कि इन चार समय पर नहीं मापना चाहिए वजन

खुलासा: 2002 में भारत पर परमाणु हमला करना चाहते थे मुशर्रफ, लेकिन डर के मारे कर न सके


मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्विटरगूगल प्लस पर फॉलो करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *